दक्षिण पूर्व रेलवे महाप्रबंधक ने बिहार स्पंज आयरन लिमिटेड साइडिंग का किया निरीक्षण

कांड्रा से के दुर्गा राव की रिपोर्ट

कांड्रा: सरायकेला-खरसावां जिला अंतर्गत चक्रधरपुर रेल मंडल के अधीन मानिककूई स्टेशन के समीप उमेश नगर रेलवे साइडिंग में स्थापित बिहार स्पंज आयरन लिमिटेड प्लांट में दक्षिण पूर्व रेलवे के महाप्रबंधक अर्चना जोशी ने पूरी टीम के साथ रेलवे साइडिंग का तकनीकी और हर बिंदुओं में निरीक्षण किया। उनके साथ चक्रधरपुर रेल मंडल के डीआरएम विजय साहू और पूरी टीम शामिल थी। ज्ञात हो कि सराइकेला- खरसावां जिला में सबसे अत्यधिक आधुनिक इलेक्ट्रॉनिक पैनल से सुसज्जित रेलवे साइडिंग है, 25 टन का क्षमता वाला एक्सेल ट्रैक बिछाया गया है। ट्रैक की लंबाई लगभग 4.2 किलोमीटर है। पूरा साइडिंग का काम रेलवे मान्यता प्राप्त ठेकेदार पिकासोना द्वारा किया गया। इस साइडिंग में प्रतिमाह लगभग 40 से 50 रेक आएगी। पहली बार दक्षिण पूर्व रेलवे की महाप्रबंधक अर्चना जोशी द्वारा सभी बिंदुओं पर जायजा लेते हुए पदाधिकारियों को दिशा- निर्देश दिया। बिहार स्पंज आयरन लिमिटेड वर्ष 2013 में बंद हो चुकी थी, अब पुनः चालू हो रही है।