ओबीसी समुदाय के साथ राज्य सरकार कर रही नाइंसाफी: राजेश

रांची: बिहार से अलग होने के बाद ओबीसी समुदाय को हक बढ़ने के बजाय घटा दीया गया जो राज्य के 55% आबादी वाला ओबीसी के साथ नाइंसाफी है।
ओबीसी मोर्चा ने शिक्षा मंत्री से अपील किया है कि शिक्षा विभाग में होने वाले लगभग एक लाख साठ हजार शिक्षकों की नियुक्ति में ओबीसी समुदाय का हक 50% बनता है इसलिए शिक्षा मंत्री ओबीसी समुदाय का आरक्षण 14 से 50% बढ़ाए उसके बाद ही कोई नियुक्ति करें.
प्रदेश अध्यक्ष राजेश कुमार गुप्ता ने उपरोक्त बातें प्रेस वार्ता में कहीं। उन्होंने कहा की पिछले एनडीए सरकार के कार्यकाल में भी ओबीसी समुदाय को ठगा गया था। प्रदेश अध्यक्ष श्रीगुप्ता ने कहा की पिछले 20 सालों से ओबी समुदाय को छलने का काम किया जा रहा है।
वर्तमान सरकार में न्याय की उम्मीद है परंतु अभी तक न्याय ओबीसी समुदाय को मिलता हुआ नहीं दिख रहा है। इसलिए राष्ट्रीय ओबीसी मोर्चा शिक्षा मंत्री से मांग करता है कि शिक्षा विभाग में नियुक्तियां शुरू करने से पहले ओबीसी समुदाय का आरक्षण जरूर बढ़ाएं करें प्रेस वार्ता में प्रदेश उपाध्यक्ष सूबेदार एसएन सिंह कुशवाहा महानगर अध्यक्ष विष्णु सोनी, डॉ हीरालाल साहा, प्रदेश सचिव सुरेश ठाकुर, पालेदु कुमार पाल प्रमुख रूप से उपस्थित थे ।