योग द्वारा स्वयं को मजबूत करें: रविशंकर

– आर्ट ऑफ लिविंग के संस्थापक के जन्मदिवस पर हुई मिशन ऑफ जिंदगी की शुरुआत
– ध्यान और योग कार्यक्रम आयोजित

गोड्डा से अभय पलिवार की रिपोर्ट
गोड्डा: आर्ट ऑफ लिविंग के संस्थापक श्री श्री रविशंकर के 66 वें जन्म दिवस पर मिशन जिंदगी कार्यक्रम की शुरूआत की गई।
अपने जन्मदिवस पर शुक्रवार को श्री रवि शंकर ने ऑनलाइन लगभग 156 देश के आर्ट ऑफ लिविंग के कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि आज लोगों का जीवन बचाने का समय है। हम अधिक से अधिक ध्यान करें और स्वयं को जानें। योग द्वारा स्वयं को मजबूत करें। फिर लोगों की सेवा करें।
झारखंड के आर्ट ऑफ लिविंग कमिटी की बैठकों में सभी योग शिक्षको एवं डीडीसी सदस्यों ने शामिल होकर वर्तमान स्थिति से अवगत करवाया। सभी जिलों के लिए आश्रम की तरफ से टीम बनाने का निर्देश के बारे में बताया गया।गोड्डा के आर्ट ऑफ लिविंग के डीडीसी सदस्य प्रीतम गाडिया ने संताल परगना की स्थिति के बारे में अवगत करवाते हुए बताया कि संताल परगना में आश्रम की तरफ से भोजन, सुखा अनाज, आक्सीजन कंसंट्रेटर, इम्यूनिटी बूस्टर पैकेट, ऑक्सीमीटर आदि उपलब्ध करवाने से यहां भी सेवा कार्य शुरू किया जा सकता है एवं समय रहते कई मानव जीवन को बचाया जा सकता है।
मौके पर सोनाली सिंह, सुमित कुमार, अजीत वर्मा, रागिनी कुमारी, ऋचा कुमारी, मयंक सिंह,श्रद्धा रानी,अविनाश वर्मा, प्रवीण कुमार, संदीप कुमार आदि के साथ पूरे राज्य से आर्ट ऑफ लिविंग के कार्यकर्ताओं ने अपने सुझावों से कमिटी को अवगत करवाया। गुरू जी के जन्म दिवस के अवसर पर इस महामारी में मिशन जिंदगी को सफल बनाने का संकल्प सभी ने एक साथ लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *