सीबीएसई द्वारा घोषित मैट्रिक परीक्षा फल से छात्रों में असंतोष

– गोड्डा एवं महागामा में सड़कों पर उतरे छात्र
गोड्डा/महागामा: सीबीएसई द्वारा घोषित 2021 के मैट्रिक परीक्षा परिणाम को लेकर छात्रों में कहीं खुशी कहीं गम वाली स्थिति है। जिन्हें बेहतर अंक मिला है वह खुश हैं और जिन्हें कम अंक मिला है वे नाराज हैं। कम अंक पाने वाले छात्रों में असंतोष गहराता जा रहा है। जिला मुख्यालय में दो दिन से सड़कों पर उतर कर छात्र अपना विरोध जता रहे हैं। वहीं गुरुवार को महागामा में भी असंतुष्ट छात्रों ने सड़क पर उतर कर परीक्षा परिणाम के विरुद्ध सड़क जाम किया।
मालूम हो कि सीबीएसई द्वारा कोरोना के मद्देनजर इस वर्ष परीक्षा आयोजित नहीं की गई थी। बगैर परीक्षा के एक मापदंड निर्धारित कर परीक्षा फल घोषित किया गया। घोषित परीक्षा फल के बाद सीबीएसई पाठ्यक्रम पर संचालित जिले के कुछ एक स्कूलों की ओर से जहां रिजल्ट पर प्रसन्नता जाहिर की गई है, वहीं कई स्कूल संचालकों एवं छात्रों ने रिजल्ट पर गहरी नाराजगी का इजहार किया है। रिजल्ट से असंतुष्ट छात्रों ने बुधवार को शाम में जिला मुख्यालय के कारगिल चौक को कुछ देर के लिए जाम किया, वहीं गुरुवार को समाहरणालय में पहुंचकर उपायुक्त को ज्ञापन सौंपा। छात्रों का कहना था कि स्कूल में बेहतर प्रदर्शन करने वाले छात्रों को जहां कम अंक मिला है, वहीं खराब प्रदर्शन करने वाले छात्रों को अधिक अंक मिला है।
उधर, गुरुवार को महागामा के डीएवी स्कूल, ऊर्जानगर के दसवीं के छात्रों ने सीबीएसई बोर्ड के परिणाम से असंतुष्ट होकर स्कूल का घेराव किया और जमकर नारेबाजी कीl इसके बाद छात्रों ने बसुआ चौक मुख्य सड़क को लगभग तीन घंटे तक जाम कर दिया l छात्रों का कहना था कि कोविड-19 में जिस प्रकार से स्कूल संस्थान बंद रहे और ऑनलाइन पढ़ाई भी सुचारू रूप से नहीं हो पाई। जिसके चलते हम लोगों की तैयारी नहीं हो सकी । दसवीं की परीक्षा में हम लोगों को बहुत ही कम नंबर दिए गए हैं l जब तक फिर से एग्जाम नहीं लिया जाता है, तब तक हम लोग आंदोलन करते रहेंगे l
मौके पर डीएवी स्कूल के प्रिंसिपल एके पांडेय पहुंचे और उन्होंने बच्चों से अपील करते हुए कहा कि सीबीएसई बोर्ड के रिजल्ट से जो छात्र असंतुष्ट हैं, उनके लिए 17 अगस्त को फिर से परीक्षा लेने की घोषणा की गई है ।इसलिए आप लोग शांति बनाए रखें।
लेकिन छात्रों का कहना था कि इतने कम समय में हम लोगों की तैयारी नहीं हो सकती और अच्छे कॉलेज हमारे एडमिशन के लिए नहीं रूके रहेंगे l परिस्थिति को देखते हुए महागामा थाना प्रभारी कृष्ण कुमार दल बल के साथ पहुंचे और छात्रों को समझाने का काफी प्रयास किया। फिर भी छात्रों ने उनकी बातों को नहीं माना।छात्रों का कहना था कि जब तक कोई भी पदाधिकारी यहां पर नहीं आते तब तक हमलोग यहीं पर डटे रहेंगे।
मुख्य मार्ग के जाम करने से पूरी तरह से यातायात बाधित हो गया था।जिससे आम लोगों को काफ़ी परेशानियों का सामना करना पड़ा।वहीं जब इसकी सूचना महागामा के प्रखंड विकास पदाधिकारी प्रवीण कुमार चौधरी को हुई,वह जाम स्थल पर पहुंचे। उन्होंने छात्रों को समझाने का प्रयास किया।उनकी बातों को मानकर अन्ततः जाम समाप्त किया गया।