तेनुघाट पुलिस ने 4 घंटे में सुलझाया अपहरण का मामला, चार गिरफ्तार, अपहरित युवक भी बरामद

बोकारो से जय सिन्हा
बोकारो: बोकारो के गोमियाँ में अपहरण के मामले में पुलिस को मिली बड़ी सफलता तेनुघाट भारत माता मंदिर से अपहृत छप्पर गढ़ा निवासी  धर्मेंद्र को दिन के 11:00 बजे अपहरण कर तेनुघाट दो नंबर स्थित एक झोपड़ी नुमा रूम में रखा गया था।

बताते चलें कि छप्पर गढ़ा निवासी जय लाल करमाली का पुत्र धर्मेंद्र प्रतिदिन अपनी मोटरसाइकिल से गोमिया  डांस क्लास के लिए जाया करता था दिनांक 16 ननवम्बर को दिन मंगलवार प्रतिदिन की भांति धर्मेंद्र डांस क्लास के लिए निकला भारत माता मंदिर के पास 4 लोगो  ने इशारा किया जिसमें धर्मेंद्र का एक परिचित  था परिचित को देखते हैं धर्मेंद्र मोटरसाइकिल को रोका मोटरसाइकिल रुकते हैं चारों लोगों ने उसे घेरकर मंदिर के नजदीक बने झोपड़ी में ले गए बताया जाता है कि जाते हैं उसके हाथ पर एवं मुंह को बांध दिया गया और वहीं से  धर्मेंद्र के मोबाइल से उसके पिता  जय लाल को फोन लगाकर अपहरण फिरौती की मांग की गई जय लाल को लगा कि कोई मजाक कर रहा है वह अपना काम निपटा ने लगा काम निपटाने के बाद पुनः अपने पुत्र के मोबाइल नंबर पर फोन लगाया परंतु पुत्र का मोबाइल बंद आने लगा जय लाल ने इसकी सूचना चौकी प्रभारी प्रशांत कुमार सिंह को दी प्रशांत सिंह ने अपने वरीय पदाधिकारी को इसकी सूचना दी तथा सन्हा दर्ज किया ओपी प्रभारी के सूचना पर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी सतीश चंद्र झा ने पुलिस पदाधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिया और धर्मेंद्र के मोबाइल को सर्विलांस पर डाला तथा अपने गुप्त चरो को लगाया ऐसी भी एक गुप्त चर ने सूचना दी कि अपहृत को तेनु घाट दो नंबर में ही रखा गया है गुप्त सूचना पर चौकी प्रभारी प्रशांत कुमार सिंह अशोक कुमार पासवान रंजीत सिंह अहमद अली खान रामप्रवेश राम अरविंद सिंह को लेकर गुप्त चर द्वारा बताए गए स्थान को चारों ओर से घेर लिया और अपहृत धर्मेंद्र के साथ 4 लोगों को पकड़ा जिसमें कार्तिक राम संजय मरांडी उर्फ सिद्धार्थ दीनू मरांडी सूरज कुमार दास उर्फ छोटू कुमार उर्फ विक्की  को गिरफ्तार किया गया गिरफ्तारी के बाद धर्मेंद्र को अनुमंडलीय अस्पताल ले जाया गया जहां उसका उपचार किया गया गिरफ्तार किए गए अपराधियों के पूछताछ के बाद यह बात सामने आई की अपहृत धर्मेंद्र के पिता सीसीएल से रिटायर किए थे और फिरौती के लिए धर्मेंद्र का अपहरण किया गया था अपहरणकर्ता के निशानदेही पर धर्मेंद्र का मोटरसाइकिल जो पाठ पाठ में अलग कर रखा गया था धर्मेंद्र का बैग 3 मोबाइल चाकू सेलो टेप रस्सी लाल रंग का कपड़ा का दो मोटरसाइकिल को जप्त किया गया।