पीएम आवास योजना की राशि का मिलीभगत किया जा रहा बंदरबांट

मयूरहंड से सुभाष कुमार सिंह

मयूरहंड (चतरा) मयूरहंड प्रखंड के कदगांवां कला पंचायत अंतर्गत सिन्दुआरी गांव में, योजना संख्या-70/2011-012द्वारा लाभुक रामजीवन भुईयां,पिता-गुलाबी भुईयां को इंदिरा आवास मिला था। योजना की प्राक्कलित राशि-48500/थी। इस योजना में,चेक संख्या,420539 दिनांक-23-3-2012, 24000/हजार,चेक सं.194177, दिनांक27-11-2013,20000/हजार रुपए और दिनांक 13-8-2016,को 4280/रुपए कुल-48280/रुपए का भुगतान किया गया। भुगतान पूर्ण होने के पश्चात योजना अभिलेख में आवास पूर्ण दिखला दिया गया। पुनः सिन्दूआरी गांव निवासी रामजीवन भुईयां पिता-गुलाबी भुईयां को पंचायत सचिव पुनीत दास की कृपा से जेएच-1373896,द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभुक बना दिया गया,जिसका सैंक्शन संख्या-जेएच- 170/12/2/370, 20 जून 2020,है। यह प्रधानमंत्री आवास भी 125000/रुपए भुगतान के साथ आवास योजना पूर्ण दिखलाया जा रहा है।ज्ञात हो कि रामजीवन भुईयां को वर्ष 2011-012में जो इंदिरा आवास दिया गया था उसका छत ढलाई नहीं था,एजवेस्टस सीट(कौरकेट)छत पर डाला हुआ था। पुनः जब रामजीवन भुईयां पिता-गुलाबी भुईयां को पुनीत दास की कृपा से दोबारा वर्ष 2020,में प्रधानमंत्री आवास मिला,तो पुराने इंदिरा आवास की छत ढलाई कर उसे वर्ष 2020-21,का नया प्रधानमंत्री आवास बना दिया गयाऔर प्रधानमंत्री आवास योजना राशि की आपस में मिलकर बंदरबांट कर लिया गया। पुनीत दास द्वारा वर्ष 2011-012 में इंदिरा आवास योजना के अन्य कई लाभुकों के नाम से आये प्रधानमंत्री आवासों को यह कारण बताते हुए वापस कर दिया कि इन लाभुकों को पूर्व में आवास मिल चुका है,या इनके पक्के मकान हैं। इस संबंध में पंचायत सचिव पुनीत दास सेअपराह्न 1.16मिनट पर अपने मोबाइल फोन नं. 7488004411से पूछने पर उन्होंने कहा कि हमें याद नहीं है, देखकर बतायेंगे। पंचायत सचिव पुनीत दास द्वारा कदगांवां कला पंचायत में संचालित प्रधानमंत्री आवास योजना में भारी गड़बड़ी की गई है/की जा रही है।निष्पक्ष जांच करने से कई राज खुलेंगे।