अन्नदाता के इस संघर्ष के आगे केंद्र सरकार को झुकना पड़ा: ज़ोया परवीन

रामगढ़ : देश में कृषि कानून वापस लेने को लेकर कांग्रेस नेत्री ज़ोया परवीन ने कहा पिछले 1 वर्षों से भी ज्यादा समय से हिंदुस्तान के अन्नदाता हमारे किसान भाई सड़कों पर अपने अधिकार के लिए केंद्र सरकार से संघर्ष कर रहे थे इस संघर्ष में 400 से ज्यादा किसानों की जाने गई । हर मौसमो की परवाह किए बगैर अन्नदाता के इस संघर्ष के आगे केंद्र सरकार को झुकना पड़ा और आज प्रधानमंत्री को यह तीनों काले कानून वापस लेने की घोषणा करनी पड़ी। यह घोषणा हिंदुस्तान के अन्नदाताओं की जीत है , हमारे नेता राहुल गांधी ने संसद में केंद्र की सरकार को स्पष्ट रूप से कहा था की किसानों के मर्जी के खिलाफ कोई भी कानून उन पर थोपा नहीं जा सकता। यह तीनों काले कानून भाजपा सरकार को वापस लेनी होगी । कांग्रेस पार्टी हिंदुस्तान के किसानों के आंदोलन के साथ खड़ी है। आज यह घोषणा उनके विचारों की भी जीत है। प्रधानमंत्री की इस घोषणा को किसानों के जीत के रूप में देखता है और ऐसी कामना करता है भविष्य में फिर कभी हमारे अन्नदाताओं को अपने अधिकार के लिए संघर्ष नहीं करना पड़ेगा। आगे कांग्रेस नेत्री ज़ोया परवीन ने अपने सहयोगियों के बीच मिठाई का भी वितरण किया साथ ही कहा देश के किसान भाई बधाई के पात्र हैं जिन्होंने ने केंद्र सरकार के खिलाफ एक जुट होकर आंदोलन में डटे रहे।