केन्द्र सरकार ने राज्य सरकार को बंधुआ मजदूर बना कर रख दिया: झामुमो

रांची: झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्य ने कहा है कि सत्ता के शीर्ष पर बैठे लोग देश को गुमराह कर रहे हैं। देश के लोगों को अधिक भय में जीने को और अधिक अविश्वास रहने को मजबूर कर रहे हैं। संसद में जो बातें कही गई कि देश में आज तक कोरोना काल में ऑक्सीजन से एक की मौत नहीं हुई हैं। एक ऐसा गंभीर और सुनियोजित झूठ है। केंद्र सरकार जीते जी लोगों को सांस नहीं लेने देती और मरने के बाद पुण्य आत्मा को अपमानित कर रही है। देश के करोड़ों लोगों ने अपनो को खोया है। उन्होंने कहा कि केंद्र ने राज्य सरकार को बंधुआ मजदूर बना कर रख दिया। राज्यों को केवल नसीहत दी। उनका दुख और दर्द क्या है यह कभी नहीं पूछा। यूपी के जो अस्पताल कहते थे कि हमारे यहां ऑक्सीजन की कमी है, उन पर देशद्रोह का मुकदमा कर दिया जाता था।
उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने ऑक्सीजन और वैक्सीन पर पूरी तरह कब्जा कर लिया है। अपनी मर्जी के हिसाब से राज्यों को देती है। उन्होंने कहा कि जब अप्रैल और मई में बंगाल के साथ पांच राज्यों का चुनाव चल रहा था। पूरा कोविड- सिस्टम कोविड- मैनेजमेंट सिस्टम सेंट्रल ने अपने हाथ में ले रखा था। पिछले साल से ही पीएम केयर्स फंड स्वास्थ्य विभाग का बजट सभी कुछ केंद्र सरकार के पास था। ऑपरेशन हो या कोविड- संबंधित दवाएं सारे पर नियंत्रण केंद्र सरकार का था। केंद्र सरकार को सुप्रीम कोर्ट के द्वारा फटकार भी लगाया गया था। झारखंड के साथ केंद्र सरकार सौतेला व्यवहार कर रही हैं। वैक्सीन की कमी के कारण टीकाकरण प्रभावित हो रहा है।