लखीमपुरखीरी घटना में शामिल दोषियों को मिले कठोर सजा: विनोद यादव

बरही से बिपिन बिहारी पाण्डेय

बरही: उत्तर प्रदेश के लखीमपुरखीरी में केंद्रीय मंत्री के बेटे ने शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे किसानों को अपनी कार से कुचल दिया। जिसमें 4 किसान समेत आठ लोगों की मौत हो गई। उक्त बातें कांग्रेस जिला महासचिव सह बरही विधानसभा के विधायक प्रतिनिधि विनोद यादव ने गुरुवार को पत्रकारों के बीच कहा। उन्होंने कहा कि किसान शांतिपूर्ण तरीके से अपना विरोध प्रदर्शन कर रहे थे, लेकिन केंद्रीय मंत्री के बेटे ने किसानों को अपनी कार से कुचल दिया। किसानों की मृत्यु हुई इसलिए इस घटना की उच्च स्तरीय जांच और दोषियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई हो। वहीं उन्होंने कहा कि केंद्र की हिटलर शाही मोदी सरकार एवं उत्तर प्रदेश की निरंकुश योगी सरकार की नीतियों का मैं घोर निंदा करता हू, साथ ही कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के साथ उत्तर प्रदेश पुलिस के द्वारा किए गए व्यवहार को उन्होंने कड़े शब्दों में निंदा की है। वहीं कहा की जिस प्रकार लखीमपुर खीरी में शांति पूर्वक प्रदर्शन कर रहे किसानों पर केंद्रीय कृषि मंत्री के बेटा के द्वारा वाहन से रौंदकर किसानों की हत्या की गई है, वह ब्रिटिश कालीन हुकूमत कि सरकार के द्वारा जालियांवाला बाग में किए गए नरसंहार की याद ताजा कर दी है। वहीं माँग किया कि इस हत्याकांड में शामिल दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा मिले।