बांझा बहेर नदी के तेज धार में बहे बच्चे का दूसरे दिन मिला शव

प्रतापपुर(चतरा)। जिले के प्रतापपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत बांझा बहेर नदी में पार करते समय मोटरसाइकिल पर सवार एक बालक बहग गया था, जिसका शव तीन किमी दूरी पर स्थित सरदम नदी के पास एक झाड़ी में गुरुवार को मिला। मिली जानकारी के अनुसार बुधवार को बरियातू से प्रदीप गुप्ता अपने बच्चे व पत्नी के साथ मोटरसाइकिल पर सवार होकर अपने ससुराल प्रताापुर थाना क्षेत्र आ रहा था कि नदी पार करने के दौरान बाइक पर सवार सभी गिर गए और बालक पानी के तेज बहाव में बह गया। ग्रामीण स्थानिय प्रशासन व पंचायत प्रतिनिधि के सहयोग से ढूंढने का घंटों प्रयास किया गया और रात हो जाने के कारण नही ढूंढा जा सका। दुसरे दिन पुनः बच्चे  की खोज में निकले ग्रामीणों तो घटनास्थल से लगभग 3 किलोमीटर की दूरी पर रकसी सरदम बाली नदी में झाड़ी में फंसा हुआ उसका शव मिला। बच्चे के मौत की खबर सूनते ही गांव में शोक व्याप्त हो गया और माता-पिता सहित परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है। वहीं ग्रामीणों ने आक्रोश व्यक्त करते हुए कहा कि लगभग 3 वर्ष पूर्व टूटे हुए इस पुल का यदि समय से निर्माण किया गया होता तो यह दुर्घटना संभवत नहीं होती। आगे ग्रामीणों ने बांझा नदी पर धीमी गती से बन रहे पुल निर्माण पर असंतोष व्यक्त करते हुए जल्द से जल्द पुलि निर्माण कार्य पुरा करने की मांग सरकार से की है।