वज्रपात सुरक्षा जागरूकता वाहन को हरी झंडी दिखा समाहरणालय परिसर से उपायुक्त ने किया रवाना

सरायकेला।”बज्रपात सुरक्षित भारत” अभियान के तहत रेड क्रॉस सोसायटी द्वारा संचालित जागरूकता वाहन को हरी झंडी दिखा उपायुक्त व अन्य पदाधिकारियों ने शुक्रवार को रवाना किया। उपायुक्त अरवा राजकमल, उप विकास आयुक्त प्रवीण कुमार गागराई, आईटीडीए परियोजना के निर्देशक संदीप दौराईबुरु, अपर समाहर्ता सुबोध कुमार एवं रेड क्रॉस के सचिव डॉक्टर डीडी चटर्जी द्वारा सामूहिक रूप से हरी झंडी दिखाकर जागरूकता वाहन को समाहरणालय परिसर से रवाना किया गया।इस दौरान उपायुक्त ने आम जनों को संबोधित करते हुए कहा बज्रपात आपदा प्रबंधन के दृष्टिकोण से एक काफी महत्वपूर्ण मुद्दा है। इसके बारे में सभी आम जनों को जागरूक करना सरकार एवं जिला प्रशासन का मुख्य उद्देश्य है।
मौके पर उपायुक्त ने पत्रकारों से कहा कि वज्रपात जैसे प्राकृतिक आपदा की स्थिति में लोगों को सुरक्षित रहने हेतु किन-किन बातों का ध्यान रखा जाना चाहिए, वैसी स्थिति में क्या-क्या करना चाहिए इसी के मद्देनजर आज बज्रपात सुरक्षित भारत अभियान के तहत रेड क्रॉस सोसायटी द्वारा संचालित जागरूकता वाहन को हरी झंडी दिखा कर रवाना किया गया है । यह जागरूकता वाहन सभी प्रखंडों में अलग-अलग दिन घूम- घूम कर लोगों को वज्रपात से संबंधित जानकारी साझा कर सुरक्षित रहने के लिए जागरूक करेगी। उन्होंने कहा जहां वज्रपात की संभावना सबसे ज्यादा रहती है उसी प्रखंड में अधिक दिनों तक जागरूकता वाहन भ्रमण करेगी ।साथ ही आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा वज्रपात से होने वाली हानि से परिवार को किए जाने वाले मदद के बारे में भी जागरूकता वाहन अवगत कराएगी। उपायुक्त ने मीडिया के माध्यम से आम जनों से अपील करते हुए कहा वज्रपात की स्थिति में सुरक्षित रहें, अगर अधिक बारिस या वज्रपात की स्थिति में आप घर से बाहर हैं तो आप किसी भवन में शरण ले। ऐसी स्थिति में किसी वृक्ष के नीचे न रहें, इलेक्ट्रॉनिक उपकरण जैसे मोबाइल, टीवी इत्यादि का उपयोग ना करें। उपायुक्त ने आमजन से अपील करते हुए कहा कि सुरक्षा उद्देश्य से ऐसा आप खुद भी करें और अपने परिवार, अपने आस पास के लोगों को भी जागरूक करें।