सफल परीक्षा संचालन को लेकर उपायुक्त ने की पुलिस बल एवं वीडियोग्राफी के साथ बैठक

सरायकेला से भाग्य सागर सिंह की रिपोर्ट

सरायकेला। समाहरणालय स्थित सभाकक्ष में शनिवार को उपायुक्त अरवा राजकमल ने झारखंड लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित संयुक्त असैनिक सेवा (प्रारंभिक) प्रतियोगिता परीक्षा के सफल संचालन हेतु प्रतिनियुक्त किए गए पुलिस बल एवं केंद्रों पर वीडियोग्राफी करने वाले टीम के साथ बैठक की। उपायुक्त ने प्रतिनियुक्त किए गए पुलिस बल को अपने-अपने केन्द्रो के मजिस्ट्रेट के साथ समन्वय स्थापित कर कार्य करने की बात कही। उपायुक्त ने कहा सभी अपने-अपने गंतब्य स्थान पर ससमय पहुंचना सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने कहा शांतिपूर्ण एवं कदाचार मुक्त परीक्षा संपन्न कराने हेतु केंद्र में प्रतिनियुक्त मजिस्ट्रेट एवं पुलिस बल को अपनी-अपनी जिम्मेदारियां का इमानदारी पूर्वक निर्वहन करना होगा। उन्होंने कहा सभी पुलिस बल परीक्षार्थियों के साथ सहयोगात्मक भाव रखते हुए सावधानी के साथ चेकिंग एवं कोविड गाइडलाइन का पालन करना होगा। उपायुक्त ने कहा परीक्षा केंद्र के 100 मीटर आस पास धारा 144 लागु रहेगा उसका उल्लंघन न हो यह सुनिचित करेंगे।
उप विकास आयुक्त ने पुलिस बल एवं विडिओग्राफ़र को आयोग द्वारा प्राप्त दिशा निदेशो से अवगत कराते हुए अपनी अपनी जिम्मेदारियों को ईमानदारी पूर्वक निर्वाहन करने के अपील की। उपायुक्त ने झारखंड लोक सेवा आयोग द्वारा संयुक्त असैनिक सेवा (प्रारंभिक) प्रतियोगिता परीक्षा के सफल संचालन हेतु किए गए तैयारियों से पत्रकारो को अवगत कराते कहा जिले में सभी 22 केन्द्रो में 9743 परीक्षार्थी शामिल होंगे। सरायकेला प्रखंड में 07 और आदित्यपुर गम्हरिया प्रखंड क्षेत्र में सभी 15 परीक्षा केंद्र बनाए गए है। उपायुक्त द्वारा बताया गया 19 सितम्बर को 2 पाली 10 से 12 और 02 से 04 बजे तक परीक्षा संचालित होना है। परीक्षा शांतिपूर्ण एवं कदाचार मुक्त हो इस हेतु सभी प्रतिनियुक्त पदाधिकारी, पुलिस बल, विडिओग्राफ़र के साथ बैठक कर सभी आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने कहा परीक्षा से संबंधित परीक्षा केंद्रों पर या किसी भी प्रकार की सूचना के आदान-प्रदान हेतु जिला नियंत्रण कक्ष स्थापित किया गया है जिसका नम्बर 062597234002 है।
उपायुक्त ने कहा जेपीएससी द्वारा परीक्षा के गाईडलाईन में दिए गए निर्देश के अनुसार किसी परीक्षा केंद्र में किसी अभ्यर्थी में कोविड के लक्षण दिखाई देते हैं तो उनके परीक्षा में बैठने के लिए अलग कमरे की व्यवस्था की जाएगी। अभ्यर्थी को परीक्षा से वंचित नहीं करना है। सभी परीक्षा केंद्रों में प्रवेश द्वार पर अभ्यर्थियों, वीक्षकों व परीक्षा संचालन से संबंधित कर्मियों की जाँच थर्मल स्कैनर से की जाएगी। प्रवेश द्वार पर ही सैनेटाईजेशन की व्यवस्था की गई है। साथ ही सभी लोगों को परीक्षा केंद्र में मास्क पहनकर आना अनिवार्य है। उपायुक्त ने कहा यदि किसी परीक्षा केंद्रों में किसी परीक्षार्थी को स्वास्थ संबंधित समस्या होती है उस हेतु जिले में स्वास्थ्य विभाग के तीन मोबइल टीम बनाई गई है जिसमे एक सरायकेला क्षेत्र एवं दो गम्हरिया-आदित्यपुर क्षेत्र में आवश्यकतानुसार परीक्षा केंद्रों में अपनी सुविधा प्रदान करेगी। उन्होंने कहा केंद्र में यदि कोई दिव्यांग परीक्षार्थी आते है तो उनके लिए निचे की कमरा का व्यवस्था किया गया है जिससे की उन्हें किसी भी प्रकार की असुविधा का सामना ना करना पड़े।
उपायुक्त ने जिले के विभिन्न परीक्षा केंद्रों में शामिल होने वाले परीक्षार्थियों को अग्रिम बधाई देते हुए उन्हें परीक्षा केंद्रों पर सहयोगात्मक व्यवहार रखने की अपील की।उन्होंने कहा शांतिपूर्ण एवं कदाचार मुक्त परीक्षा संपन्न कराने हेतु सभी परीक्षार्थी अपने केंद्रों में मजिस्ट्रेट एवं पुलिस बल के साथ सहयोगात्मक व्यवहार करें। उपायुक्त ने जिले वासियों से भी अपील करते हुए कहा कि जिले के 22 केंद्रों में दो पाली (10 से 12 एवं 2 से 4 बजे तक) मे JPSC की परीक्षा संपन्न होनी है अतः परीक्षा केंद्र के आसपास जिनके घर हैं या जो व्यक्ति परीक्षा केंद्र के आसपास से गुजर रहें होंगे वे किसी भी प्रकार के लाउडस्पीकर, मायकिंग, हॉर्न इत्यादि का उपयोग नहीं करेंगे। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन प्रयास कर रही है की शांतिपूर्ण एवं अच्छे वातावरण में परीक्षा संपन्न हो इस हेतु जिले वासियों का सहयोग अपेक्षित है। बैठक में आइटीडीए निदेशक, डीएसपी हेड क्वार्टर, एसडीपीओ चांडिल, SMPO PRD एवं प्रतिनियुक्त पुलिसबल एवं विडिओग्राफर उपस्थित रहे।