ललमटिया- बोआरीजोर सड़क की जर्जर स्थिति दुर्घटना को कर रही आमंत्रित

– जाम की समस्या से लोग हो रहे परेशान
अकबर अली की रिपोर्ट
बोआरीजोर: ईसीएल की राजमहल परियोजना, ललमटिया के कमांड क्षेत्र में स्थित ललमटिया – बोआरीजोर मुख्य सड़क की स्थिति जर्जर होती जा रही है। इस मुख्य सड़क पर जगह जगह उभर आए बड़े-बड़े गड्ढे दुर्घटना को आमंत्रित करता प्रतीत हो रहा है। इस जर्जर सड़क पर जाम की समस्या आम हो गई है। शनिवार को दिन भर इस सड़क पर जाम की स्थिति रही। रविवार को भी छिटपुट जाम होता रहा।
राजमहल कोल परियोजना के नजदीक सड़क इतनी बदहाल स्थिति में है कि सड़क पर दो तीन फीट तक के गड्ढे बने हुए हैं। आए दिन सड़क पर कोई ना कोई छोटे बड़े वाहन फंस जाते हैं, जिससे लंबा जाम लगा रहता है।
शुक्रवार की रात्रि लगभग 10 बजे से स्टोन चिप्स से लगा हाइवा फंस जाने से शनिवार को दिन भर जाम लगा रहा। सैकड़ों वाहन की लंबी कतारें लग गई। लालमटिया थाना को सूचना मिलने पर जाम को हटाने का काफी प्रयास करने के बावजूद फंसे वाहन को बाहर नहीं निकाला जा सका। शनिवार की रात 10 बजे जाम समाप्त हुआ और वाहनों की आवाजाही प्रारंभ हुई। लेकिन रविवार की सुबह करीब 6 बजे फिर से जाम लग गया। अपराहन करीब 4 बजे जाम खत्म हुआ।
बताते चलें कि राजमहल कोल परियोजना के नजदीक बसडीहा भेरेंदा के बीच सड़क इतनी बदहाल स्थिति में है कि आए दिन कोई न कोई छोटी बड़ी वाहन फंस जाती है। सड़क के दोनों किनारे गाइड वाल का निर्माण किया जा रहा है। पत्थरों से गाइड वाल जैसे-तैसे जोड़कर निर्माण कार्य किया जा रहा है। गाइड वाल निर्माण के बाद सड़क के दोनों तरफ मिट्टी से ढंक दिया जा रहा है। सड़क पर डाली गई मिट्टी के ऊपर बड़े वाहन चलने से फंस जा रहे हैं। एक तरफ सड़क का निर्माण कार्य किया जा रहा है। लेकिन जहां बड़े-बड़े गड्ढे बने हुए हैं, वहां सड़क नहीं बनाकर दूसरी जगह सड़क का निर्माण कार्य चल रहा है। जिस कारण सड़क पर बड़े वाहन फंसते जा रहा हैं।
मालूम हो कि ललमटिया – बोआरीजोर मुख्य रास्ते से स्टोन चिप्स और पत्थर लदा ओवरलोडेड सैकड़ों वाहन झारखण्ड से बिहार की ओर जाती है। तेज रफ्तार से दौड़ती ओवरलोडेड वाहनों के कारण सड़क बनने के साथ ही जर्जर होने लगती है।