कोरोना के थर्ड वेव की तैयारी में जुटा जिला प्रशासन बिजली समस्या पर भी हुई चर्चा

बोकारो से जय सिन्हा
बोकारो: कोरोना के थर्ड वेव की तैयारियों एवं जिले में लचर बिजली व्यवस्था को दुरूस्त करने संबंधित विषयों को लेकर मंगलवार को समाहरणालय स्थित कार्यालय कक्ष में उपायुक्त राजेश सिंह ने बैठक की। बैठक में धनबाद सांसद पी. एन. सिंह, विपक्ष के मुख्य सचेतक सह बोकोरो विधायक बिरंची नारायण, चंदनकियारी विधायक अमर बाउरी, गोमियो विधायक डा. लंबोदर महतो, माननीय बेरमो विधायक जय मंगल सिंह, मंत्री के प्रतिनिधि जय लाल महतो, सांसद प्रतिनिधि गिरीडीह, पुलिस अधीक्षक चंदन झा समेत जिले के वरीय अधिकारी उपस्थित थे।
सबसे पहले बैठक में कोरोना संक्रमण को नियंत्रित करने के लिए पूर्व में कि गई तैयारियां एवं वर्तमान में कोरोना संक्रमण के मामलों की जानकारी माननीय जनप्रतिनिधियों को दी गई। मौके पर सिविल सर्जन डा. अशोक कुमार पाठक ने बताया कि जिले में कुल कोरोना संक्रमितों की संख्या 19030 थी, जिसमें कुल 18605 संक्रमित ठीक हो गये। वर्तमान में सक्रिय मामलों की संख्या मात्र 151 है। इनके स्वास्थ्य में भी व्यापक सुधार आ रहा है। वहीं, अब तक कुल 474927 लोगों का सैंपल टेस्ट हुआ है। जिले का रिकवरी रेट 97.77 फीसद है,ग्रोथ रेट 0.1 फीसद है।
सिविल सर्जन ने थर्ड वेव के मद्देनजर एसएनसीयू के 40 बेड, आइसीयू के लिए 30 बेड, ऑक्सीजन युक्त बच्चों के लिए 80 बेड एवं ऑक्सीजन युक्त बड़ों के लिए 400 बेड की व्यवस्था की गई है।
बैठक में उपस्थित सांसद पी. एन सिंह ने चंदनकियारी प्रखंड में स्वास्थ्य के लिए बेहतर व्यवस्था करने की बात कहीं। कहा कि वहां प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र को छोड़ सरकारी एवं निजी कोई अन्य व्यवस्था नहीं है। लोगों को 50 – 60 किमी दूर आना होगा। इस पर स्थानीय विधायक ने भी सहमती जताई। थर्ड वेव से पूर्व चंदनकियारी में अस्थायी अस्पताल जैसी व्यवस्था करने की बात कहीं। उधर, उपायुक्त ने कहा कि चंदनकियारी में पाइप लाइन से बेडों तक ऑक्सीजन आपूर्ति के लिए प्लांट बैठाया जाएगा। इसके लिए पहल किया गया है।
बेरमो विधायक जय मंगल सिंह ने खाली भवनों को निजी चिकित्सों व अस्पताल संचालकों को रेंट पर देने या आउट सोर्सिंग कर्मियों द्वारा संचालित करने की बात कहीं। ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों को निजदीकी क्षेत्र में ही बेहतर चिकित्सा सुविधा मिल सके। इसके लिए उपायुक्त ने सिविल सर्जन को प्रस्ताव तैयार कर मुख्यालय भेजने को कहा। विधायक द्वारा पोर्टेबल सिटी स्कैन मशीन की व्यवस्था करने को कहा। साथ ही सदर अस्पताल में यह सेवा जल्द सुनिश्चत करने को कहा। ताकि आम लोगों को सहूलिय हो। निजी सिटी स्कैन केंद्रों एवं अस्पतालों में सरकार द्वारा निर्धारित दर संबंधित पोस्टर चस्पा करने को कहा। कोरोना काल में सभी अस्पतालों में अधिकारियों को प्रतिनियुक्त करने को कहा, ताकि उसकी मानीटरिंग हो सके। आम लोगों को निजी अस्पताल परेशान नहीं करें।
गोमियो विधायक डॉ लंबोदर महतो ने ग्रामीण क्षेत्रों स्थित स्वास्थ्य केंद्रों में स्वास्थ्य कर्मी नहीं बैठने की शिकायत की। इस पर उपायुक्त ने वैसे कर्मियों को चिन्हित करते हुए सिविल सर्जन को कार्रवाई के लिए अनुशंसा करने को कहा। बैठक में आरटीपीसीआर टेस्ट लैब को लेकर भी चर्चा हुई। जिस पर एसडीओ चास शशि प्रकाश सिंह ने बताया कि इसकी अनुमति प्राप्त हो गई है। सेक्टर फाइव स्थित स्वास्थ्य केंद्र में इसे स्थापित किया जाएगा। इस दिशा में जल्द काम शुरू होगा।
चंदनकियारी विधायक अमर बाउरी ने टीकाकरण को लेकर ग्रामीण क्षेत्रों में अफवाह पर चिंता जताई।* माननीय जनप्रतिनिधियों ने अफवाह फैलाने वाले तत्वों के विरूद्ध कार्रवाई करने को कहा। कहा कि कोरोना संक्रमण से बचाव का एक मात्र उपाए टीकाकरण है ऐसे में गलत अफवाह सही नहीं है। उपायुक्त ने कहा कि प्रशासनिक स्तर से लोगों को जागरूक किया जा रहा है। आप सब भी अपने – अपने स्तर से लोगों को टीकाकरण के लिए प्रेरित करें। माननीय बेरमो विधायक ने टीकाकरण स्थल पर स्लाट बूक कर आने वालों को टीका अवश्य लगे यह सुनिश्चित करने को कहा। कहा कि दस लोग पूरा नहीं होने के कारण उन्हें लौटा दिया जाता है। यह उचित नहीं है आपसी समन्वय के साथ चिकित्स अन्य केंद्रों पर शेष वैक्सीन को खपाएं। इस दिशा में सकारात्मक पहल का उपायुक्त ने आश्वासन दिया। इसके अलावा 18 प्लस लोगों पर वैक्सीनेशन पर फोकस करने को जनप्रतिनिधियों ने सुझाव दिया। कहा कि जब 18 प्लस वाले टीका लगा लेंगे तो वह परिवार के अन्य सदस्यों को भी प्रेरित करेंगे। इसके अलावा कई अन्य बिंदुओं पर भी चर्चा की।
एक सप्ताह में दुरूस्त करें लचर बिजली व्यवस्था
आगे, उपायुक्त राजेश सिंह ने जिले में लचर बिजली व्यवस्था को लेकर कार्यपालक अभिंयता, बिजली संचार संबंधित तकनीकि अधिकारियों से जानकारी ली। बिजली की लचर स्थिति पर जनप्रतिनिधियों ने भी रोष जताया। कहा कि विभागीय अधिकारी फोन तक रिसीव नहीं करते। इस पर उपायुक्त ने नाराजगी व्यक्त करते हुए बिजली विभाग के कार्यपालक अभियंता को ऐसी शिकायत दोबारा नहीं मिले इसे सुनिश्चित करने को कहा।
बिजली की आंख मिचौनी पर कार्यपालक अभियंता सुनील कुमार ने मांग के अनुरूप बिजली नहीं मिलने की बात कहीं। कहा कि वर्तमान समय में 65 से 70 मेगावाट बिजली की आवश्यकता है। लेकिन, 40 मेगावाट बिजली ही उपलब्ध हो रही है। इसलिए रोटेशन वार बिजली की आपूर्ति की जा रही है। वहीं, फाल्ट होने पर डीवीसी द्वारा मरम्त कार्य में विलंब किया जाता है। इस पर डीवीसी के तकनीकी अधिकारियों से बात की। उपायुक्त ने सप्ताह भर में बिजली व्यवस्था को दुरुस्त करने को कहा। उपायुक्त ने बिजली विभाग के वरीय अभियंता को रोटेशन वाइज शर्ट डाउन टाइम सभी फिडरों को एक सप्ताह में सुनिश्चित करने को कहा।
बैठक में जैनामोड़ एवं चंदनकियारी पावर ग्रिड व सब स्टेशन को लेकर वन विभाग से क्लियरेंस नहीं मिलने की बात सामने आई। इस पर उपायुक्त ने वन विभाग के अधिकारी को तीन दिनों के अंदर ऐसे लंबित मामलों की सूची व वर्तमान स्थिति संबंधित प्रतिवेदन कार्यालय को समर्पित करने को कहा। इसमें किसी तरह की कोई लापरवाही नहीं हो।
बैठक में उप विकास आयुक्त जयकिशोर प्रसाद, अपर समाहर्ता सादात अनवर, अनुमंडल पदाधिकारी बेरमो तेनुघाट अनंत कुमार, अनुमंडल पदाधिकारी चास शशि प्रकाश सिंह, अधीक्षण अभियंता विद्युत प्रमंडल चास, मुख्य अभियंता बोकारो थर्मल एवं चंद्रपुरा, जिला नजारत उप समाहर्ता विवेक सुमन, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी राहुल कुमार भारती, कार्यपालक अभियंता विद्युत प्रमंडल चास एवं तेनुघाट, कार्यपालक अभियंता डीवीसी चास एवं पुटकी, सहायक जनसंपर्क पदाधिकारी अविनाश कुमार समेत अन्य उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *