राजकीय पशु प्रक्षेत्र भूमि पर वर्षो से अतिक्रमणकारियों की नजर

13 अतिक्रमणकारी हुए चिह्नित, मापी में 25 एकड़ जमीन पर कब्जे की पुष्टि
हटाया जाएगा सभी अतिक्रमण : सीओ

बरही से बिपिन बिहारी पाण्डेय

बरही (हजारीबाग) : बरही थाना अंतर्गत गौरियाकरमा स्थित राजकीय पशु प्रक्षेत्र, गौरियाकरमा की भूमि पर विगत कई वर्ष से अतिक्रमणकारियों की नजर रही है। किंतु देर ही सही पर अतिक्रमणकारियों से भूमि को मुक्त कराने की कवायद अब शुरू हो गई है। पशु प्रक्षेत्र, गौरियाकरमा के प्रबंधन की शिकायत पर बरही अंचल अधिकारी के द्वारा की गई मापी में लगभग 25 एकड़ जमीन पर अतिक्रमण होने की पुष्टि हुई है। बरही अंचल के अमीन के द्वारा सीओ को सौंपी गई जांच एवं मापी रिपोर्ट के अनुसार देवचंदा के कुल 13 लोगो को चिन्हित किया गया है। जिनके द्वारा पशुपालन प्रक्षेत्र की जमीन को मकान, कुआं, डोभा, धान खेत सहित टांड के रूप में अतिक्रमण किया गया है। जिसमे अतिक्रमणकारियों के द्वारा खेती की जा रही है।
13 लोगों पर अतिक्रमण करने की हुई पुष्टि : अंचल अमीन द्वारा की गई नापी के बाद पिछले 24 सितंबर को सीओ को सौपे के रिपोर्ट के अनुसार निजामउद्दीन वो मो हबीब मियां 15 एकड़, हिरामन यादव 3 एकड़, सहोदर कर्णदेव 33 डिसमिल, जुमन मियां 90 डिसमिल, कालीचरण यादव 2.30 एकड़, मुकुंद यादव 1.75 एकड़, धनेश्वर यादव 68 डिसमिल, हाशिम मियां 66 डिसमिल, इसराइल मियां 37 डिसमिल, मो कयूम 31 डिसमिल, मो गफूर 15 डिसमिल, कालीचरण ठाकुर 13डिसमिल एवं देवनारायण ठाकुर के द्वारा 18 डिसमिल भूमि को अतिक्रमण करने की पुष्टि हुई है।
वहीं हसीम अंसारी, जुमन मियां, देवनारायण ठाकुर आदि लोगों ने बताया कि खाली परती जमीन था इसलिए हमलोग उस पर खेती-बारी का कार्य कर रहे थे। पशुपालन प्रबंधन चाहे तो अपना जमीन मापी करवा कर ले सकती है। इसमें हम सबाें को कोई आपत्ति नही है। साथ ही कहा कि जब अतिक्रमण हटे तो शत प्रतिशत यानी सभी 13 लोगों से अतिक्रमण हटे। हम सब इसमें सहयोग करेंगे।
क्या कहते हैं सीओ : इस संबंध में सीओ अरविंद देवाशीष टोप्पो ने बताया कि पिछले 24 सितंबर को मापी करने का कार्य पूरा कर लिया गया है। जिसमें 13 लोग चिन्हित हुए हैं। राजकीय पशु प्रक्षेत्र की अतिक्रमित भूमि को निश्चित रूप से अतिक्रमण मुक्त किया जाएगा। इसके लिए विधि सम्मत कार्रवाई की जाएगी, प्रथम फेज में अतिक्रमण करने वालों पर नोटिस जारी की जाएगी और उनसे कागजात मांगा जाएगा।
बॉक्स में –
डीवीसी द्वारा राजकीय पशु प्रक्षेत्र को प्रदत है जमीन : बताते चलें कि राजकीय पशु प्रक्षेत्र, गौरियाकरमा को यह भूमि डीवीसी के द्वारा प्रदत है। पशु प्रक्षेत्र के प्रबंधक ने अनुसार वर्ष 1950 -51 में डीवीसी द्वारा अर्जित भूमि 499.28 एकड़ है।