कोयलांचल में धूमधाम से मना रक्षाबंधन का पर्व, बहनों ने तिलक लगाकर भाईयों की कलाई पर बांधी राखी

बहनों ने भाईयों की कलाई पर राखी बांध की लंबी उर्म की कामना

रजरप्पा(रामगढ़): रजरप्पा कोयलांचल सहित आसपास के क्षेत्रों में रविवार को भाई-बहन के पवित्र रिश्ते का प्रतीक रक्षाबंधन पर्व हर्षोल्लास और परंपरा पूर्वक के साथ संपन्न हो गया। बहनों ने भाई की कलाई पर रक्षा सूत्र बांधकर दीर्घायु की कामना की, वहीं भाईयों ने भी बहन की रक्षा का संकल्प लिया और उपहार देकर उनकी खुशियों में शरीक हुए। ससुराल में रह रही बहनों के घर भाई और बहनों द्वारा मायके जाकर भाइयों को राखी बांधने का कार्य दिनभर चलता रहा। पर्व को लेकर चारों ओर उल्लास का वातावरण छाया रहा। जिसमे बच्चे सर्वाधिक प्रसन्न मुद्रा में रहे। इस दौरान सावन पूर्णिमा के राखी के इस खास अवसर पर महिलाएं व युवतियां ने पूजा अर्चना कर भाईयों की कलाईयों पर राखी बांधकर और मिठाइयां खिलाकर उनकी लंबी उम्र की मंगलकामना की। साथ ही भाईयों ने भी बहनों को जीवन भर उनकी रक्षा का वचन देते हुए उन्हें उपहार भी भेंट किया। इस बार बहनों के लिए अच्छी बात यह रही कि उन्हें अपने भाई की कलाई पर राखी बांधने के लिेए किसी खास समय का इंतजार नहीं करना पड़ा। ऐसा इसलिए क्योंकि इस बार रक्षाबंधन पर भद्रा नहीं था। जिसकी वजह से इस दिन राखी बांधने के लिए पूरा दिन शुभ रहा। राखी का शुभ मुहूर्त सुबह से प्रारंभ हुआ, जो देर शाम तक चलता रहा। इस शुभ मुहूर्त होने के कारण बहनों ने अहले सुबह मंदिर पहुंचकर पूजा अर्चना की। तत्पश्चात अपने अपने भाइयों की कलाईयों में राखी बांधी।