निजी भवन में चल रहा है 30 वर्षों से स्वास्थ्य केंद्र मंधनिया, विभागीय लापरवाही के कारण 11 वर्ष से बेकार पड़ा लाखों का भवन

 हो रहा जर्जर
मयूरहंड(चतरा) नरेश कुमार सिंह। विभागीय लापरवाही के कारण चतरा जिले के मयूरहंड प्रखंड अंतर्गत मंधनिया में उप स्वास्थ्य केंद्र 30 वर्षों से निजी भवन में संचालित किया जा रहा है। जबकि 2008-09 में लगभग 13 लाख के लागत से बनाए गए अस्पताल भवन को 11 वर्ष बितने के बाद भी विभाग ने हैंडओवर नही लिया। भवन निर्माण का शिलान्यास वर्ष 2009 में तत्कालीन सांसद इंदर सिंह नामधारी ने आम लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया कराने के उद्देश्य से किया था। एएनएम तारा देवी ने बतााया की निजी भवन में एक बेड का उप स्वास्थ्य केंद्र पिछले 30 वर्ष से संचालीत हो रहा है। एएनएम ने आगे बताया कि यदि भवन चार्ज में आया होता तो करोना महामारी में लोगों बेहतर सवस्थ्य सुविधाएं मिलती। इसकी लिखित सूचना कई बार विभाग को दिया गया पर नए भवन में केंद्र को स्थानांतरीत करने की पहल नही की गई। वहीं इस संबंध में भवन निर्माणकर्ता धर्मेंद्र दांगी ने बताया कि भवन निर्माण पूर्ण हुए 11 वर्ष हो गाय और अब भवन जर्जर हो गया है तथा मरमत की आवश्यकता है। आगे बताया कि भुगतान भी बाकी है, इसके बाबजूद विभाग ने कई बार भवन का जांच करवाया, उसके बाद भी न भुगतान किया न भवन ही हैंडओवर लिया। ऐसे में 13 लाख के लागत से बना अस्पताल भवन विभागीय लापरवाही के कारण बगैर उपयोग के हीं जर्जर हो रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *