पाँच दिन अपहृत विभूति का अता पता नहीं, डर के साये में परिजन जीने को विवश

अपहरणकर्ता 35 लाख मॉग रहे फिरौति, करौं एवं करमाटॉड़ थाना क्षेत्र के सीमांकन मामले को लेकर उलझी पुलिस
जामताड़ा से राज किशोर सिंह की रिपोर्ट
जामताड़ा : करमाटॉड़ थाना क्षेत्र के पट्टाजोरिया गॉव निवासी विभूति भैया का अपहरण विगत बुधवार 16 जून को करमाटॉड़ करौं रोड के महाजोर पुल के समीप देर संध्यॉ सात बजे के करीब कर लिया। अभी तक परिजनों के द्वारा करमाटॉड़ एवं करौं थाना का मामला को लेकर एफआइआर तक नहीं हो पाया है। हलॉकि करमाटॉड़ थाना प्रभारी रजनीश आनंद 19 जून को देर रात अपहृत के पुत्र एवं उनके साथ रहे एक युवक को लेकर करौं थाना क्षेत्र के सारंडा गॉव के समीप पहुॅचकर संतुष्ट हुए की घटना स्थल बाकई यही है। वहीं अपहरणकर्ता द्वारा बार बार पैसे का डिमांड किये जाने के कारण परिजन किसी अनहोनी से आशंकित हैं। यही कारण है कि अभी तक पुलिस के पास पहुॅचने का साहस यानी हिम्मत नहीं जूटा पाया है। इसी कारण पुलिस भी कोई इंट्रेस्ट देवघर एवं जामताड़ा की और से नहीं लिया जा रहा है। खैर जो भी हो अपहरण के पॉचवें दिन तक अपहृत का बरामद नहीं होना एवं थाना पुलिस में अभी तक परिजनों द्वारा केस दर्ज नहीं कराना। यह अनेक तरह का सवाल पैदा कर रही है। वैषे परिजन अब रूपये पैसों का इंतजाम कर अपहरणकर्ता को ले देकर अपहृत को छुड़ाने की भी बात कर रहे हैं।