मोहम्मद अरमान खान के हत्यारों को जल्द गिरफ्तार किया जाए : अफसर आलम

गुमला: गुमला झारखंड मुक्ति मोर्चा अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के जिला उपाध्यक्ष अफसर आलम ने कहा है कि डुमरी थाना अंतर्गत ग्राम बैलटोली अरमान खान उर्फ लड्डन खान को शादी समारोह में दिनांक 20 मई 2021 को रात्रि अरमान खान अपने तीन अन्य मित्रों के साथ आनंद भगत पिता दिसुआ भगत के यहां शादी समारोह में शामिल होने रात्रि 8:00 बजे गया था देर रात्रि अन्य तीनों दोस्त अपने-अपने घर वापस आ गए परंतु अरमान खान घर वापस नहीं आया सुबह में घरवाले कोई अचिंता हुई की पासी की शादी में गया हुआ है और वापस नहीं आया और छानबीन क्या उसके बाद अरमान के परिजनों द्वारा doomri थाना में दिनांक 21 मई 2021 को अरमान के गुमशुदगी का आवेदन दिया गया और इधर काफी खोजबीन अपने अन्य परिजनों से होने लगे दिनांक 23 मई 2021 को सुबह doomri थाना प्रभारी के तरफ से अरमान के परिजनों को यह सूचना दी गई के शादी समारोह के घर आनंद भगत के घर के कुआं में शव है पहचानी कर लिया जाए अरमान के परिजन व अन्य लोग घटनास्थल कुआं के पास जाकर देखा तो अरमान खान के रूप में पहचानी हुई 100 को देखने के पश्चात परिजनों का कहना है कि पहले इसे धारदार हथियार से बुरी तरह मार कर शव को फेंक दिया गया कुआं में ताकि पहचान छुपाई जा सके और किसी को पता ना चले श्री अफसर ने गुमला एसपी और थाना प्रभारी डूंगरी से अपील करते हुए कहा है कि मृतक के परिजनों द्वारा प्राथमिकी के अनुसार जांच करते हुए जल्द से जल्द अपराधियों की गिरफ्तार की जाए ताके आपसी भाईचारा गांव का बना रहे।
इस मामले को लेकर परिजनों और ग्राम वासियों में काफी रोष है अंजुमन इस्लामिया के पूर्व सचिव शहजाद अनवर ने कहा है कि पुलिस प्रशासन हत्यारों को जल्द गिरफ्तार करें और जिला प्रशासन मृतक के परिजनों को 1000000 रुपए का सहायता राशि मुहैया कराए तथा मृतक अरमान खान के पत्नी को नौकरी के लिए जिला प्रशासन झारखंड सरकार को पत्र लिखें जैसा कि परिजनों ने बताया है कि बरसों से जो doomri थाना अवस्थित है वह भूमि मृतक के परिजनों द्वारा लगभग 53 डिसमिल से भी अधिक जमीन डुमरी थाना को मुहैया कराया गया है और मृतक अरमान खान को उसी बिना पर चौकीदार के पोस्ट पर नौकरी मिलने वाला था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *