भारत बंद के समर्थन में सड़क पर उतरे महागठबंधन के नेता- कार्यकर्ता

– गोड्डा जिला में रहा बंद का मिलाजुला असर

गोड्डा से अभय पलिवार की रिपोर्ट
गोड्डा: केंद्र सरकार के कृषि कानूनों के खिलाफ संयुक्त किसान मोर्चा द्वारा आहूत भारत बंद को सफल बनाने के लिए सोमवार को महागठबंधन सड़क पर उतरा। जिला मुख्यालय समेत विभिन्न प्रखंड मुख्यालयों में गैर भाजपा दलों के नेताओं ने भारत बंद को सफल बनाने के लिए इस उमस भरी गर्मी में पसीना बहाया। बंद का मिलाजुला असर रहा। बाजार की अधिकतर दुकानें बंद रहीं। सड़कों पर व्यावसायिक वाहनों का परिचालन ठप रहा। प्राइवेट स्कूलों पर बंद का असर देखा गया। वहीं सरकारी कार्यालयों में बंद बेअसर रहा।
बंद को सफल कराने के लिए सड़कों पर उतरे गैर भाजपा दलों के नेताओं ने किसान कानूनों की मुखालफत करते हुए केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। बंद समर्थक बीच-बीच में मोदी सरकार होश में आओ, कृषि कानूनों को वापस लो आदि नारे लगा रहे थे। जिला मुख्यालय में अपने हाथों में अपनी-अपनी पार्टी का झंडा थामे कांग्रेस, झारखंड मुक्ति मोर्चा, राष्ट्रीय जनता दल, भाकपा माले समेत वामपंथी दलों के नेता घंटों तक कारगिल चौक पर डटे रहे।
जिला मुख्यालय में बंद को सफल कराने के लिए सुबह करीब 6 बजे से ही महागठबंधन के विभिन्न दलों के नेताओं का जुटान कारगिल चौक पर होने लगा था। सर्वप्रथम झारखंड मुक्ति मोर्चा के केंद्रीय समिति सदस्य एवं पूर्व जिला अध्यक्ष राजेश मंडल झामुमो कार्यकर्ताओं के साथ कारगिल चौक पर आ धमके थे। कुछ ही देर में कांग्रेस के जिला उपाध्यक्ष राजीव मिश्रा पार्टी के कार्यकर्ताओं के साथ पहुंचे। इन नेताओं ने बाजार में घूम घूम कर दुकानदारों से भारत बंद के समर्थन में दुकान नहीं खोलने की अपील की। जिला मुख्यालय के मुख्य चौराहा कारगिल चौक को जाम कराया गया। इसी बीच लगभग 8 बजे भाकपा माले के प्रखर नेता अरुण सहाय के नेतृत्व में लगभग 200 कार्यकर्ता लाल झंडे के साथ कारगिल चौक पर पहुंचे और भारत बंद को सफल बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। कुछ देर के बाद कांग्रेस के जिला अध्यक्ष दिनेश यादव समेत, राकेश रोशन समेत पार्टी के अन्य नेता कारगिल चौक पर पहुंचे। कारगिल चौक को चारों तरफ से जाम कर दिया गया, ताकि वाहनों का आवागमन नहीं हो सके।

कांग्रेस विधायक प्रदीप यादव एवं इरफान अंसारी भी उतरे सड़क पर

लगभग 11 बजे दिन में पोड़ैयाहाट के विधायक प्रदीप यादव एवं जामताड़ा विधायक इरफान अंसारी साहब ने भी कारगिल चौक पहुंचकर लोगों का हौसला आफजाई किया। दोपहर लगभग एक बजे राष्ट्रीय जनता दल के प्रदेश प्रधान महासचिव सह पूर्व स्थानीय विधायक संजय यादव अपने कार्यकर्ताओं के साथ कारगिल चौक पर उपस्थित हुए। इस दौरान भाषणों का दौर चलता रहा। कांग्रेस विधायक प्रदीप यादव, डॉक्टर इरफान अंसारी, पूर्व राजद विधायक संजय प्रसाद यादव, कांग्रेस के जिला अध्यक्ष दिनेश यादव, झामुमो के केंद्रीय समिति सदस्य राजेश मंडल, भाकपा माले के क्रांतिकारी नेता नलिनीधर सहाय अरुण, ओबीसी मोर्चा के राजकुमार भगत, कांग्रेस के मनोज यादव, बिंदु मंडल, राजीव मिश्रा, राकेश रोशन, झारखंड मुक्ति मोर्चा के केंद्रीय समिति सदस्य घनश्याम यादव, झामुमो के जिला सचिव बासुदेव सोरेन, वाम मोर्चा के नरेश यादव, दशरथ महतो आदि ने संबोधित किया। सभी वक्ताओं ने केंद्र की मोदी सरकार को आगाह करते हुए कहा कि किसान आंदोलन का अविलंब न्याय करें। किसान नए कृषि बिल को जब मानने को तैयार नहीं है तो मोदी सरकार को किसानों की भावनाओं का आदर करते हुए तीनों नए कृषि बिल को समाप्त कर देना चाहिए।