जिला स्तरीय शिक्षक पुरस्कार 2021 को लेकर डीसी की अध्यक्षता में चयन समिति की बैठक संपन्न

गुमला से बसंत गुप्ता

गुमला : उपायुक्त शिशिर कुमार सिन्हा की अध्यक्षता में जिलास्तरीय शिक्षक पुरस्कार 2021 हेतु जिला स्तरीय चयन समिति की बैठक आईटीडीए भवन के सभागार में की गई। बैठक में जिला शिक्षा पदाधिकारी सह जिला शिक्षा अधीक्षक द्वारा बताया गया कि प्राथमिक एवं माध्यमिक शिक्षा निदेशालयों के अंतर्गत संचालित विद्यालयों में उत्कृष्ट कोटि की सेवा प्रदान करने वाले चयनित नियमित शिक्षक/ शिक्षिकाओं को जिला स्तर एवं राज्य स्तर पर शिक्षक दिवस के अवसर पर पुरस्कृत करने का निर्णय चालू शैक्षिक सत्र में लिया गया है। इस संबंध में निर्धारित रूपरेखा के अनुरूप शिक्षकों का चयन किया जाना है। निर्धारित रूपरेखा के अनुसार जिलास्तरीय चयन समिति द्वारा विहित प्रक्रिया के अनुरूप प्रारंभिक विद्यालय के तीन एवं माध्यमिक/ उच्च माध्यमिक (प्लस 02) के दो उत्कृष्ट शिक्षकों का चयन किया जाना है। जिसमें से जिलांतर्गत प्रारंभिक विद्यालय से 06 तथा माध्यमिक विद्यालय से 02 आवेदन प्राप्त किए गए हैं। इसपर उपायुक्त ने प्राप्त किए गए सभी आवेदनों का गहन जाँच करते हुए आवेदकों द्वारा विहित प्रारूप में आवेदन भरा गया है अथवा नहीं तथा इस संबंध में स्पष्ट अनुशंसा किया गया अथवा नहीं इसका भी सत्यापन सुनिश्चित करने का निर्देश दिया।

ज्ञातव्य है कि शिक्षकों के चयन हेतु मापदंड निर्धारित है। जिसके तहत शिक्षकों का कम से कम दस वर्षों की लगातार सेवा होनी चाहिए। प्राथमिक विद्यालय के शिक्षकों के मामले में ज्ञानसेतु के तहत विगत वर्ष (2020-21) का उपलब्धि स्तर, मध्य विद्यालय के मामले में वर्ग 08 का विगत वर्ष 2020-21 का परीक्षाफल, माध्यमिक उच्च विद्यालय के शिक्षकों के मामले में विगत वर्ष में क्रमशः वर्ग 10 एवं वर्ग 12 का परीक्षाफल प्रतिशत आधार होगा। शिक्षक की शैक्षणिक दक्षता एवं शिक्षण कार्य की प्रतिबद्धता संबंधित जिला शिक्षा पदाधिकारी सह जिला शिक्षा अधीक्षक द्वारा निर्धारित किया जाएगा। विद्यालय संचालन में शिक्षक की भूमिका, सह पाठ्यक्रम क्रियाशीलन, छात्र-छात्राओं के नामांकन में योगदान एवं पोषक क्षेत्र का शत-प्रतिशत नामांकन में भूमिका का अवलोकन किया जाएगा। संबंधित शिक्षक के विरूद्ध अनुशासनिक कार्रवाई संचालित नहीं हो एवं पूर्व में दंडित नहीं किए गए हों। विशेष आवश्यकता वाले बच्चों के लिए किए गए उल्लेखनीय कार्य, नवाचार गतिविधि यथा- कोविड काल में ऑनलाइन/ ऑफलाइन पठन-पाठन की व्यवस्था, नवाचारी शिक्षण पद्धति आदि तथा शिक्षकों का सेवा संपुष्ट होना अनिवार्य है।

उपायुक्त ने निदेशालय द्वारा निर्धारित सभी शर्तों, प्रावधानों एवं रूपरेखा के आलोक में सभी शर्तों को पूर्ण करने वाले उत्कृष्ट शिक्षकों का निर्धारित समय सीमा के अंदर चयन कर अनुशंसा राज्य स्तरीय समिति को प्रेषित करने का निर्देश दिया।

उपस्थिति
बैठक में उपायुक्त शिशिर कुमार सिन्हा, उप विकास आयुक्त संजय बिहारी अंबष्ठ, अपर समाहर्त्ता सुधीर कुमार गुप्ता, जिला शिक्षा पदाधिकारी सह जिला शिक्षा अधीक्षक सुरेंद्र पाण्डेय, जिला कल्याण पदाधिकारी अजय जेराल्ड मिंज, प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी गुमला/ बसिया, एडीपीओ पीयूष गुप्ता, सचिव विकास भारती महेंद्र भगत, अध्यक्ष ग्राम शिक्षा समिति/ विद्यालय प्रबंध समिति राजकीय मध्य विद्यालय सिलम रायडीह, सचिव झारखंड प्राथमिक शिक्षक संघ गुमला रामचंदर खोरवार, सचिव अखिल झारखंड प्राथमिक शिक्षक संघ गुमला व अन्य उपस्थित थे।