सुबे के मंत्री ने किया बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा, किसानों को मुआवजा व प्रभावित परिवारों को मदद का दिलाया भरोसा

पाकुड़: ग्रामीण विकास विभाग मंत्री आलमगीर आलम शनिवार को सदर प्रखंड के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा किया। मौके पर उपायुक्त वरुण रंजन, एसपी हृदिप पी जनार्दन, डीडीसी अनमोल कुमार, अपर समाहर्ता मंजु रानी स्वांसी, सिविल सर्जन डॉ० रामदेव पासवान, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी डॉ० चंदन, बीडीओ शफीक आलम, सीओ आलोक वरण केसरी उपस्थित थे। मंत्री श्री आलम कुमारपुर होते हुए तारानगर कुसमानगर, संग्रामपुर, रामचंद्रपुर के खेतों में डूबे फसलों का जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने किसानों से बातें भी की। माननीय मंत्री ने किसानों को नष्ट होने वाले फसलों का मुआवजा दिलाने का भरोसा दिलाया। इसके बाद ईलामी हटिया चौक पर आयोजित सभा में शामिल हुए। जहां ग्रामीणों को संबोधित करते हुए किसान और बाढ़ पीड़ित परिवारों को हर संभव सुविधा देने की बातें कही। मंत्री श्री आलम ने कहा कि बाढ़ की वजह से किसानों को काफी नुकसान हुआ है। किसानों ने जितना पूंजी लगाकर फसलें लगाई थी, सारी पूंजी डूबने के कगार पर हैं। इसलिए उन्हें आर्थिक रूप से नुकसान से बचाने का काम करेंगे। किसानों को उनके बर्बाद हुए फसलों का मुआवजा मिलेगा। जितने भी परिवार बाढ़ की वजह से प्रभावित हुए हैं, उनके बीच सुखा राशन का वितरण किया गया है। आगे जरूरत पड़ने पर और राशन दिया जाएगा। इन इलाकों में बाढ़ की वजह से बीमारी नहीं फैले, इस पर भी पूरी नजर है। स्वास्थ्य विभाग की मेडिकल टीम काम कर रही है। तारानगर, ईलामी सहित जितने भी गांव बाढ़ की चपेट में आया है, उन्हें स्वास्थ्य सुविधा मुहैया कराया जा रहा है। आगे भी मिलता रहेगा। सभा को संबोधित करने के पश्चात मंत्री काफिले के साथ ईलामी-नवादा गांव के बीच बनने वाले पुल को लेकर स्थल का मुआयना किया। मौके पर उपायुक्त श्री वरुण रंजन को आवश्यक दिशा निर्देश दिया। माननीय मंत्री श्री आलम ने कहा कि बरसात के बाद बहुत जल्द पुल निर्माण का काम शुरू हो जाएगा।

मौके पर कांग्रेस जिलाध्यक्ष उदय लखवानी, यूथ कांग्रेस जिलाध्यक्ष तस्लीम आरिफ बुलेट, विधायक प्रतिनिधि देबू विश्वास, अवधेश झा, अनवर हुसैन, नसीम आलम, फिरोज आलम, हबिबूर रहमान, अंसारुल आलम आदि मौजूद थे। मंत्री आलमगीर आलम पृथ्वीनगर गांव का भी दौरा किया। पृथ्वीनगर में बाढ़ के दौरान पानी के तेज बहाव में बहने से नदी में डूब कर मरने वाले ग्रामीण डॉक्टर के परिवार से मिले। मृतक के परिजनों से मिलकर ढांढस बंधाया। मंत्री ने आश्रितों को आपदा राहत कोष से तत्काल आर्थिक मदद देने की बातें कही। मृतक के बच्चों को 04 लाख रुपए का आर्थिक मदद मिलेगा। साथ ही सरकारी विद्यालय में दो बच्चों को नि:शुल्क शिक्षा मुहैया कराया जाएगा। उनके बच्चों को सरकार द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं से जोड़ा जाएगा। मंत्री ने पृथ्वीनगर के किसान एवं बाढ़ प्रभावित ग्रामीणों को मदद का आश्वासन दिया।