अल्पसंख्यक धार्मिक समुदाय के नेतृत्वकत्ताओं को पुलिस प्रशासन ने किया जागरूक, गांव में भी चलाएंगे अभियान

खूंटी : खूंटी जिले के ग्रामीण इलाकों में कोविड-19 के बढ़ते मामलों के बाद जिला प्रशासन जिले के हर समुदाय के अगुओं के साथ मिलकर जागरूकता अभियान चला रहा है। खूंटी के अल्पसंख्यक धार्मिक समुदाय के लोगों के बीच पहुंचकर सिविल सर्जन और खूंटी थाना प्रभारी ने लोगों का उत्साह बढ़ाया। सिविल सर्जन ने चर्च के धार्मिक नेतृत्वकर्ताओं को ग्रामीणों को जागरूक करने के लिए आगे आने को कहा।

खूंटी थाना प्रभारी जयदीप टोप्पो ने बताया कि कैसे उसने कोरोना को मात देने के लिए वैक्सीन की दोनों डोज ली और उसके बाद परिवार में कोरोना संक्रमितों के साथ रहते हुए भी संक्रमित नहीं हुए। उन्होंने बताया कि वैक्सीन के दोनों डोज लेने का फायदा आप तभी जाना पाएंगे जब आप स्वयं वैक्सीन लेंगे। बिना वैक्सीन लिए लोगों को जागरूक करना बेमानी होगी। हमलोग अपराध अनुसंधान के सिलसिले में कई गांवों का दौरा किये तब पता चला कि गांव में लोगों को सर्दी खांसी की शिकायत है लेकिन ग्रामीण चुपचाप हैं। न तो कोरोना की दवाई लेना चाहते हैं और न वैक्सीन, गांव में लोग जांच भी नहीं करना चाहते हैं ऐसे संकट की घड़ी में चर्च के अगुवा ग्रामीणों के बीच जनजागरूकता अभियान चलाकर कोरोना संक्रमण की रफ्तार में कमी ला सकते हैं और लोगों को वैक्सीन के लिए प्रेरित कर सकते हैं। गांव में वैक्सीन को लेकर फैली अफवाह पर भी विराम लगाया जा सकता है। कार्यक्रम में फादर विशु बेंजामिन आईन्द, महिला संघ, काथलिक सभा और युवा संघ के प्रतिनिधि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *