मोहम्मद इम्तियाज का अकस्मात जाना अपूरणीय क्षति:जिला शिक्षा अधीक्षक

रामगोपाल जेना
चाईबासा: शिक्षण कार्य के अलावे शिक्षा विभाग के तकनीकी कार्य एवं चुनाव संबंधी प्रशिक्षण में सहयोग कर प्रशासन का हाथ बंटाने वाले मोहम्मद इम्तियाज अहमद का अकस्मात जाना अपूरणीय क्षति है।ये बातें नगरपालिका बांग्ला मध्य विद्यालय में मो.इम्तियाज के निधन पर आयोजित शोक सभा में जिला शिक्षा अधीक्षक अनिल कुमार चौधरी ने कहा। उन्होंने शोक व्यक्त करते हुए कहा कि इम्तियाज एक कर्तव्यनिष्ठ एवं जिम्मेदार व्यक्तित्व के धनी थे। ऐसे व्यक्तित्व का अचानक हमारे बीच से चले जाने से खालीपन महसूस होना लाजिमी है।जिला शिक्षा अधीक्षक ने इम्तियाज की तस्वीर पर फूल अर्पित कर श्रद्धांजलि दिया। मौके पर नगरपालिका बांग्ला मध्य विद्यालय के प्रभारी असीम कुमार सिंह ने शोक सभा में पश्चिमी सिंहभूम के पूर्व उपायुक्तों अब्बु बक्कर सिदिक पी.,अरवा राज कमल, पूर्व आरडीडीई द्वय रजनीकांत वर्मा,अरविंद विजय बिलुंग और पूर्व डीएसई नीलम आईलिन टोप्पो का शोक संदेश से रूबरू कराया।ज्ञात हो कि इम्तियाज के कार्यालीय कार्यों में अच्छी जानकारी रहने से हर पदाधिकारी व अधिकारीगण उनसे अक्सर सहयोग लिया करते थे।शोक सभा में शिक्षक शिक्षिकाओं ने दिवंगत की तस्वीर पर फूल अर्पित कर एवं आत्मा की शांति के लिए मौन‌ धारण कर श्रद्धांजलि दिया।शोक सभा में सदर बीइइओ नागेश्वर सिंह, अनंत लाल विश्वकर्मा, ओमप्रकाश गुप्ता,निर्मल त्रिपाठी, दीपक प्रजापति, कृष्णा देवगम,महेश सिंह,अलका किरण शिवकुमारी आल्डा,शरद गुप्ता,विनय सिंह,सुषमा पुरती,सरिता सिंहकुंटिया , मीनाक्षी सहाय,स्वीटी सिन्हा, सीआरपी नीलम सिन्हा,समीर सिंह,वंदना प्रधान, हीरावती सुंडी,अनीता सोय समेत कई शिक्षक शिक्षिकाएं सोशल डिस्टेन्सिंग का पालन करते हुए उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *