बीते कई महीनों से खराब पड़ा है कोनवाई गांव का पानी टंकी, पानी के लिए दर-दर भटक रहे ग्रामीण

पांकी से लौकेश सिंह की रिपोर्ट
पांकी: पांकी प्रखंड के कोनवाई बाजार पर खराब पड़ा पानी टंकी सिर्फ शोभा बढ़ा रही है,पेयजल के तहत पानी टंकी का निर्माण कराया गया है। ताकि ग्रामीणों को शुद्ध पेयजल प्राप्त हो सके। विभाग की ओर से इस योजना के तहत लाखों रुपया खर्च कर कोनवाई गांव में वर्ष 2019-20 में पानी टंकी का निर्माण कराया गया। साथ ही साथ पानी टंकी तक पानी पहुंचाने के लिए बोरिंग, मोटर पंप, सोलर सिस्टम की व्यवस्था की गई है। साथ ही साथ घर-घर पाइप पहुंचाया गया। पर एक बूंद भी जब से पानी टंकी बैठा तब से ग्रामीणों को पानी नसीब नहीं। साथ ही ग्रामीण बताते हैं कि किसी तरह 200 से 300 मीटर नदी चुआड़ी के पानी पीने को विवश हैं। किंतु कोनवाई गांव के ग्रामीण महज 1 महीना तक ही इस टंकी से पानी का उपयोग कर सके। साथ ही पाइप सिर्फ घर तक किया गया पर पानी पाइप के माध्यम से एक बूंद भी नहीं गया। इसके बाद यह टंकी बेकार पड़ गया है, जिससे ग्रामीण इस टंकी से पेयजल की प्राप्ति के लिए महीनों से वंचित हैं।वहीं पानी पिने वाला ग्रामीण जनता लक्ष्मण कुमार सिंह ने कहा कि सरकार हम लोगों की सुविधा के लिए योजना बनाती है लेकिन हम लोगों को फायदा नहीं मिल पाता लाखों रुपए खर्च होने के बाद भी टंकी से पानी नहीं निकल सका अगर पानी टंकी से पानी की सप्लाई शुरू हो जाए तो हम लोग पानी के लिए भटकना नहीं पड़ेगा।साथ ही वहां मौजूद अरुण ठाकुर ने कहा कि जिस समय पानी टंकी बनाया जा रहा था उस समय हम लोगों को लगा कि अब पानी की समस्या दूर हो जाएगी लेकिन सभी कार्य करने के बावजूद भी विभाग द्वारा पेयजल आपूर्ति नहीं किया गया जिससे हम लोग पानी की समस्याओं से जूझ रहे हैं।वहीं इस संबंध में कोनवाई के मुखिया प्रमोद कुमार सिंह द्वारा जानकारी दिया गया कि पीएचडी विभाग मोटर पंप को बनाने के लिए एक दो महीना पहले खोल कर ले गए हैं।पर अभी तक विभाग द्वारा पानी टंकी शुरू नहीं किया गया।