राज्य कैबिनेट में जुम्मन मोड़ से लोधरिया तक पीडब्ल्यूडी सड़क निर्माण की स्वीकृति मिलने से खुशी का माहौल

चैनपुर क्षेत्र जनसंघर्ष समिति के सदस्यों ने मुख्यमंत्री एवं स्थानीय विधायक का जताया आभार

जामताड़ा:  5 अगस्त को हुई झारखंड सरकार की कैबिनेट बैठक में प्रस्तावित गोविंदपुर- साहिबगंज एडीबी पथ पर जुम्मन मोड से लोधरिया मोड़ (एसएच-13) तक भाया बुटबेरिया पीडब्ल्यूडी सड़क निर्माण की स्वीकृति प्रदान की गई । लगभग 40 करोड़ की लागत से बनने वाली इस सड़क की लंबाई 12.010 किलोमीटर होगी । सड़क बन जाने से धनबाद की दूरी 20 किलोमीटर कम हो जाएगी। स्वीकृत सड़क निर्माण में भू अर्जन भी शामिल है जिसमें जुम्मन मोड़ से लोधरिया के बीच सड़क किनारे जमीन अधिग्रहण करते हुए सड़क बनाई जाएगी । इसमें रैयतों के जमीन, घर आदि का अधिग्रहण में सरकारी दर पर उचित मुआवजा भी मिल सकेगा।
कैबिनेट से सड़क स्वीकृति की खबर मिलते ही सड़क के लिए संघर्षरत रहे चैनपुर क्षेत्र जनसंघर्ष समिति के सदस्यों एवं इस क्षेत्र के गांवों में खुशी का माहौल है। क्षेत्र के लोग एक दूसरे को बधाई दे रहे हैं।

चैनपुर क्षेत्र के बुद्धिजिवी वर्ग में भी खुशी व्याप्त है। शिक्षक कौरेश अंसारी , इंजिनियर मनताज अंसारी, समाजसेवी मुनिलाल हांसदा, किशोर दत्ता, प्रदीप वर्मा , नारायण राय , कौशर अंसारी , महेंद्र मंडल , परमेश्वर मंडल एवं जनसंघर्ष समिति के अध्यक्ष जावेद इक़बाल, मोहम्मद शफीक अंसारी , इमरान अंसारी , सुरेंद्र मंडल , इरफान अंसारी , मोहम्मद जमाल अंसारी , गुफरान अंसारी , मोहम्मद सज्जाद अंसारी एवं युवा नेता अशरफ आलम आदि ने स्थानीय विधायक डॉ. इरफान अंसारी के प्रति आभार प्रकट करते हुए कहा कि उनके अथक प्रयासों से ही कैबिनेट में मंजूरी मिलना संभव हो पाया है । सभी ने कहा कि विधायक ने जिले के पश्चिम छोर पर स्थित इस क्षेत्र के लिए एक ऐतिहासिक सौगात दिया है। इससे स्थानीय स्तर पर रोजगार के नए अवसर पैदा होंगे। अच्छी सड़कें एक मजबूत कड़ी का काम करता है जो कि विकास का पहला पैमाना होता है। अच्छी सड़कें गांव में खुशहाली की पहचान होती है । भारत सदियों से गांवों का देश रहा है ।
विदित हो कि उक्त सड़क निर्माण की मांग पिछले 7 वर्षों से लगातार दर्जनों गांवों के लोग कर रहे थे। स्थानीय विधायक सह झारखंड राज्य हज कमेटी के चेयरमैन डॉ. इरफान अंसारी ने विधानसभा में कई बार इस जर्जर सड़क निर्माण की मांग को उठाया था। अंततः उनके प्रयासों से कैबिनेट की स्वीकृति मिल गई । अब सड़क बनने का रास्ता साफ हो गया है । विधायक डॉ. इरफान अंसारी ने बताया कि इस सड़क निर्माण से क्षेत्र के दर्जनों गांवों के मजदूर, विधार्थी, मरीज, किसान, व्यापारी आदि लोगों को लाभ मिलेगा। धनबाद, गिरिडीह, बोकारो, रांची आदि स्थानों के लिए कम दूरी और बेहतर कनेक्टिविटी उपलब्ध हो सकेगी। उन्होंने बताया कि तकनीकी कारणों से स्वीकृति मिलने में थोड़ा विलंब हुआ है लेकिन हेमन्त सरकार ने प्राथमिकता के आधार पर मेरे इस प्रस्ताव पर स्वीकृति देकर यहां के लोगों का दिल जीतने का काम किया है। बहुत जल्द ही धरातल पर काम शुरू हो जाएगा।

बीरधन मुर्मू ने कहा कि इस सड़क के निर्माण के लिए हम सभी स्थानीय विधायक व राज्य सरकार को धन्यवाद देते है। साथ ही उन्होंने कहा कि इससे हम सभी को आने वाले समय में काफी फायदा होने वाला है।
वीरधन मुर्मु
सड़क बनने से जहां लोगों को सुविधाओं में इजाफा होगा, वहीं क्षेत्र के विकास में भी इस सड़क का अहम रोल होगा।
कौरेश अंसारी

उधर स्वीकृति की खबर मिलते ही चैनपुर, चंपापुर, बूटबेरिया, पेटारी, केंदुआ, चितामी, दूधपनिया, छाताबाद, घटियारी, बाबूडीह, दक्षिणबहाल, सोनाबाद, करमोई, जंगलपुर, ईरकिया,धोबना, जानहेडीह, सकलपुर, चिरुडीह इत्यादि गांवों के दुकानों, चौक – चौराहों एवं सार्वजनिक स्थानों पर लोग इस पर चर्चा और प्रसन्नता व्यक्त करते हुए देखे गए। सड़क के लिए आंदोलनरत रहे चैनपुर क्षेत्र जनसंघर्ष समिति के सदस्यों ने स्थानीय विधायक डॉ इरफान अंसारी, झारखंड कैबिनेट के मंत्रीगण एवं राज्य के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के प्रति आभार प्रकट किया।