बिजली आपूर्ति में सुधार नहीं होने पर होगा आंदोलन: सौरभ

– सामाजिक कार्यकर्ता ने विभागीय कार्यपालक अभियंता को ज्ञापन सौंपकर दिया अल्टीमेटम
गोड्डा : जिला मुख्यालय समेत संपूर्ण जिले में एक सप्ताह से बिजली आपूर्ति की स्थिति बुरी तरह चरमरा गई है। 24 घंटे में बमुश्किल 5 से 6 घंटे तक बिजली की आपूर्ति हो पा रही है। इसके कारण नागरिकों में असंतोष गहराता जा रहा है। इस भीषण गर्मी में बिजली की किल्लत के कारण आम लोगों का पारा विभाग एवं जनप्रतिनिधियों के प्रति गर्म होता जा रहा है। सामाजिक कार्यकर्ता सौरभ पराशर उर्फ बच्चू झा शुक्रवार को विभाग के कार्यपालक अभियंता से मिलकर बिजली आपूर्ति में सुधार के लिए ज्ञापन समर्पित किया है। उन्होंने चेतावनी दी है कि 24 घंटे में बिजली आपूर्ति में सुधार नहीं होने पर जोरदार आंदोलन किया जाएगा। इस बीच भाजपा के पूर्व जिला अध्यक्ष राजेश झा ने मुख्यमंत्री को पत्र प्रेषित कर विद्युत आपूर्ति की स्थिति में सुधार करने की मांग की है।
सामाजिक कार्यकर्ता सौरभ पराशर उर्फ बच्चू झा ने शुक्रवार को बिजली विभाग के कार्यपालक अभियंता से उनके कार्यालय कक्ष में मुलाकात कर बिजली आपूर्ति में सुधार का अल्टीमेटम दिया है। ज्ञापन में उन्होंने कहा है कि सनातन धर्मावलंबियों का सर्वाधिक महत्वपूर्ण पर्व शारदेय नवरात्र चल रहा है। ऐसे समय में बिना किसी पूर्व सूचना के और ठोस वजह के बिजली की आपूर्ति लगभग पूरी तरह ठप कर देना निश्चित तौर पर विभाग की अकर्मण्यता एवं असंवेदनशीलता को दर्शाता है। ऐसी स्थिति में क्षेत्र के उपभोक्ता गोलबंद हो कर उग्र आंदोलन का निर्णय ले चुके हैं।
कार्यपालक अभियंता से उन्होंने अनुरोध किया कि उदासीन रवैचा को त्याग कर जनभावना का सम्मान करते हुए 24 घंटे के अंदर आपूर्ति एवं संचरण संबंधी सभी त्रुट्टियों (अगर कोई वास्तव में है) को दूर कर निर्बाध विद्युत संचरण सुनिश्चित करें, अन्यथा वह जन आंदोलन की अगुवाई करने के लिए बाध्य होंगे।