समाज में बुजुर्गों की ये हाल मुफ्त में बिका घर और जमीन, दर दर भटकती बुजुर्ग महिला

छत्तरपुर से छोटू कुमार की रिपोर्ट
छत्तरपुर (पलामू) :समाज मे हो रहे बुजुर्गों के साथ गलत ब्यवहार से सम्मान पे ठोस पहोचाया जा रहा है हमारी संस्कृति में बड़े-बुजुर्गों के सम्मान की परंपरा रही है। वही आज छतरपुर थाना क्षेत्र के बसडिहा गांव निवासी बुजुर्ग महिला बरती देवी पति सहदेव यादव ने गांव के ही नंदकेश्वर यादव , विशुनदेव यादव , अजय यादव , योगेंद्र यादव के खिलाफ मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी डाल्टनगंज के समक्ष शिकायत दर्ज करा न्याय की गुहार लगाई है । बुजुर्ग महिला का कहना है की उसके अनपढ़ और बीमार होने का फायदा उठा कर उसके चचेरे भाई और गांव के ही अन्य उपरोक्त वर्णित लोगो के द्वारा उसके जमीन को धोखाधड़ी से साढ़े आठ लाख की देय राशि के एवज में रजिस्ट्री करा लिया गया , और फिर उन लोगो के द्वारा बुजुर्ग महिला और उसके पति को उम्र के इस पड़ाव में घर से बेघर कर दर दर की ठोकरें खाने के लिए छोड़ दिया गया । महिला का कहना है की एक तरफ जहां जमीन के एवज में उसे एक रुपया भी नही दिया गया तो वही उसके हिस्से के सवा एकड़ जमीन की जगह ढाई एकड़ जमीन की रजिस्ट्री उससे करा ली गई । महिला की सिर्फ दो बेटियां है जिनकी शादी हो चुकी है । बरती देवी ने बताया की बीते अठाईस जुलाई को उसके चचेरे भाई और अन्य लोगो ने उसका इलाज करा देने के नाम पर मेदिनीनगर ले गए और फिर वहां से समझा बुझा कर निबंधन कार्यालय ले जा कर केवाला पर अंगूठा लगवा जमीन की रजिस्ट्री करा ली । और रजिस्ट्री के पश्चात उन लोगो के द्वारा महिला के घर में ताला लगा उसे और उसके पति को घर से बेघर कर दिया गया , अब बुजुर्ग महिला और उसका पति अपना घर जमीन छोड़ अपनी बेटियों के घर गुजर बसर करने को मजबूर है और न्याय की आश में दर दर भटक रहीं है। महिला के साथ हुई जालसाजी की पुष्टि उसकी बेटी प्रभा देवी , चचेरे भाई हरेराम यादव , दसरथ यादव ने मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी के समक्ष की है । वही इस मामले को लेकर बीते इक्कीस सितंबर को दो पक्षों के बीच जम कर लाठी डंडे भी चले जिसमे दोनो पक्षों से लोग घायल हुए है और इस संबंध में छतरपुर थाना में दोनो ओर से लिखित शिकायत भी दर्ज कराई गई है ।