वीसी के द्वारा डीसी ने की ग्रामीण सुरक्षा व सर्वेक्षण कार्यक्रम के तहत हो रहे कार्यों की समीक्षा

रामगढ़: ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना संक्रमण के रोकथाम हेतु राज्य सरकार द्वारा सभी जिलों में 25 मई से 5 जून तक कोविड ग्रामीण सुरक्षा एवं संरक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। इसी क्रम में शनिवार को उपायुक्त श्री संदीप सिंह की अध्यक्षता में ऑनलाइन मीटिंग सॉफ्टवेयर द्वारा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कोविड ग्रामीण सुरक्षा एवं सर्वेक्षण कार्यक्रम के तहत हो रहे कार्यों की समीक्षा बैठक का आयोजन किया गया।

बैठक के दौरान उपायुक्त ने सबसे पूर्व सिविल सर्जन डॉ गीता सिन्हा मानकी से अब तक रामगढ़ जिले में कोविड ग्रामीण सुरक्षा एवं सर्वेक्षण कार्यक्रम के तहत हुए कार्यों की जानकारी ली। इस दौरान सिविल सर्जन द्वारा उपायुक्त को बताया गया कि कॉविड ग्रामीण सुरक्षा एवं सर्वेक्षण कार्यक्रम के तहत शुक्रवार शाम तक जिले के अलग-अलग पंचायतों में स्थित 73315 घरों में रह रहे 360606 लोगों का सर्वे किया जा चुका है जिनमें 1694 संदिग्ध लोगों की पहचान करते हुए उनके जांच एवं इलाज हेतु आगे की कार्रवाई की गई है।

बैठक के दौरान उपायुक्त ने सर्वे के दौरान जिले के अलग-अलग क्षेत्रों से जो भी कोरोना संबंधित लक्षणों वाले व्यक्ति सामने आए हैं उनसे संबंधित जानकारी अमृतवाहिनी एप पर अनिवार्य रूप से अपलोड करने हेतु आवश्यक कार्यवाही करने के संबंध में कई महत्वपूर्ण दिशा निर्देश दिए।

इन सबके अलावा बैठक के दौरान उपायुक्त ने सिविल सर्जन रामगढ़ से जिले के अलग-अलग स्वास्थ्य केंद्रों, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों, स्वास्थ्य उपकेंद्र आदि पर सुरक्षा दृष्टिकोण से प्रतिनियुक्त रक्षकों की जानकारी ली। इस दौरान उन्होंने सिविल सर्जन रामगढ़ को जिला समादेष्टा के साथ संपर्क कर आवश्यकता अनुसार रक्षकों की प्रतिनियुक्ति करने का निर्देश दिया।

बैठक के दौरान उप विकास आयुक्त, अनुमंडल पदाधिकारी, सिविल सर्जन, कार्यपालक दंडाधिकारी सह प्रभारी विधि शाखा, जिला समादेष्टा, डीपीएम एनएचएम, सहायक जिला जनसंपर्क पदाधिकारी, डीएमएफटी टीम लीड सहित अन्य उपस्थित थे।