संथाल परगना वासियों के लिए आज का दिन ऐतिहासिक:राजेश

– देवघर में एम्स के उद्घाटन पर भाजपा के पूर्व जिला अध्यक्ष ने जताई खुशी
– कहा, सांसद निशिकांत दुबे के भागीरथी प्रयास से एम्स का सपना हुआ साकार
गोड्डा: भाजपा के पूर्व जिला अध्यक्ष एवं साहिबगंज जिला के प्रभारी राजेश झा ने देवघर में एम्स के उद्घाटन पर खुशी जताते हुए कहा है कि यह केंद्र सरकार की ओर से संथाल परगना वासियों को महत्वपूर्ण तोहफा है। देवघर में एम्स को सर जमीन पर उतारने में स्थानीय सांसद डॉ निशिकांत दुबे ने भागीरथी प्रयास किया है। देश की आजादी के लिए बलिदान होने वाले अमर शहीद राजगुरु की जयंती पर एम्स के उद्घाटन के लिए झारखंड प्रदेश के तीन करोड़ जनता की ओर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केंद्र सरकार के स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया एवं संथाल परगना क्षेत्र के पिछड़ेपन को दूर करने के लिए भागीरथी प्रयास करने वाले गोड्डा के सांसद डॉ निशिकांत दुबे बधाई के पात्र हैं।
उन्होंने कहा कि अब हर नागरिक को मिलेगा सही उपचार। संथाल परगना में आई विकास की बहार।
श्री झा के अनुसार, स्वास्थ्य से पीड़ित सभी लोगों का सपना एम्स में इलाज कराने का होता है।
एम्स देवघर में 750 बेड का अस्पताल,100 – 150 सीट वाला मेडिकल कॉलेज, आयुर्वेदिक इलाज हेतु 100 बेड का आयुष अस्पताल, 100 सीट वाला छात्राओं के लिए नर्सिंग कॉलेज के साथ-साथ एम्स परिसर में ही सस्ती दर पर दवा का केंद्र अमृत फार्मेसी होगा। जिसमें बाजार की अपेक्षा 30 से 80 फीसदी तक सस्ती दर पर दवा मिलेगी। निबंधन शुल्क 30 रुपए होगा।
भाजपा के पूर्व जिला अध्यक्ष ने कहा कि सांसद निशिकांत दुबे लगातार एम्स की स्थापना के लिए प्रयासरत रहे। पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास ने भी इसमें सार्थक पहल की है।
उन्होंने कहा कि देवघर एम्स से इस क्षेत्र के लाखों लोगों को बेहतर चिकित्सा सुविधा उपलब्ध होगी। साथ ही दूर दराज के क्षेत्र से इलाज कराने आए लोगों को रात्रि विश्राम गृह में ठहरने की सुविधा मिलेगी।संथाल परगना क्षेत्र के गोड्डा, साहिबगंज, दुमका, पाकुड़, जामताड़ा, देवघर के अलावे निकटवर्ती गिरिडीह, धनबाद एवं सीमावर्ती बिहार के भागलपुर, बांका, मुंगेर, कटिहार, पूर्णिया के साथ-साथ सीमावर्ती पश्चिम बंगाल के जिलों के नागरिकों को भी एम्स का लाभ मिलेगा।