मेहरमा में लकड़ी का बोटा लदा ट्रैक्टर धराया

– तस्करी के लिए ले जाया जा रहा था बिहार का आरा मील
विजय कुमार की रिपोर्ट
मेहरमा : स्थानीय थाना क्षेत्र के भगैया पंचायत अंतर्गत खंधार गांव के पास से वन विभाग के अधिकारियों ने गुप्त सूचना के आधार पर रविवार देर रात लकड़ी का बोटा से लदा एक स्वराज ट्रैक्टर पकड़े जाने का मामला प्रकाश में आया है बताया जाता है कि मेहरमा थाना क्षेत्र में लकड़ी तस्करी बेहद तेजी से फल-फूल रहा है और लकड़ी माफिया को इस कदर संरक्षण प्राप्त है कि लकड़ी तस्कर दिन के उजाले में पिरोजपुर- सिमानपुर मुख्य सड़क पर ट्रैक्टर व जुगाड़ वाहन से खुलेआम ढुलाई करते देखा जा सकता है इस संबंध में वन विभाग के अधिकारियों ने बताया कि ट्रैक्टर से लकड़ी तस्करी करने का गुप्त सूचना पूर्व से मिल था उसी के आधार पर वन विभाग की टीम ने मेहरमा व ठाकुरगंगटी प्रखंड के विभिन्न क्षेत्रों में रात्रि गश्ती नियमित कर रही थी। उसी दौरान तलबडिया पहाड़ के आसपास लकड़ी का बोटा ट्रैक्टर पर लोडिंग की सूचना मिला उसी आधार पर कार्रवाई करते हुए खंधार गांव के तरफ से बिहार के पीरपैती प्रखंड स्थित छोटी मेहदी पोखर में संचालित अवैध आरामील के तरफ ट्रैक्टर ले जाया जा रहा था। जो खंधार गांव के पास बिना नंबर का स्वराज ट्रैक्टर को जप्त किया गया है और वाहन को सीज कर महागामा वन क्षेत्र कार्यालय लाया गया है साथ ही लकड़ी तस्कर का पहचान किया जा रहा है। इधर वन विभाग के अधिकारियों ने यह भी बताया कि लकड़ी तस्करी करने वाले को किसी भी सूरत में बख्शा नहीं जाएगा। इस मौके पर वन विभाग के अधिकारी में महेश कुमार, मुकेश कुमार समेत अन्य कर्मी उपस्थित थे।