दर्दनाक हादसा: बंद खदान से महिला व तीन बेटों की मिली लाश, सनसनी

कोडरमा : कोडरमा के मरकच्चो थाना क्षेत्र की नावाडीह पंचायत में सोमवार को एक बंद पत्थर खदान से महिला और उसके तीन बेटों की लाश मिलने से हड़कंप मच गया। मृतका की पहचान गरगडीहा निवासी उमेश यादव की पत्नी गुड़िया देवी (35) और उसके तीन पुत्रों छोटू कुमार (3), सूर्या कुमार (8) और शिवम कुमार (6) के रूप में हुई है। घटना के बाद से मृतका के ससुरालवाले घर से फरार हो गए हैं।बताया जाता है कि गुड़िया देवी रविवार शाम से ही अपने तीन बेटों के साथ घर से गायब थी। सोमवार की दोपहर कुछ किसान पंदना जंगल के समीप स्थित बंद खदान के आसपास खेतों मे काम करने पहुंचे तो उन्हें पहले महिला और उसके एक बच्चे का शव पानी में उतराया मिला। जैसे ही यह खबर आसपास फैली लोग बड़ी संख्या में खदान के किनारे जमा हो गये।
सूचना पाकर थाना प्रभारी संजय कुमार शर्मा ने दल-बल के साथ मौके पर पंहुचकर ग्रामीणों से घटना की जानकारी। इसी दौरान महिला के दो अन्य बच्चों की लाश भी पानी से बरामद की गई। देर शाम पुलिस ने ग्रामीणों के सहयोग से दोनों शव बाहर निकलवाया। घटनास्थल पहुंचे मृतका के पिता ने आरोप लगाया कि बेटी के ससुराल वालों ने ही उसकी और तीनों बच्चों की हत्या कर शव खदान में फेंक दिया है। उन्होंने कहा कि ससुरालवाले अक्सर दहेज की मांग को लेकर उनकी बेटी को प्रताड़ित करते थे।