अरगड्डा बिरसा जयंती पर आदिवासी, मूलवासी समाज के लोगों ने दी श्रद्धांजलि

धरती आबा के समाज उत्थान के क्रांतिकारी जज्बे को किया याद

सिरका : अरगड्डा मोड़ पर स्थापित भगवान बिरसा मुंडा के 146वीं जयंती पर चपरी, कंजगी, हेसला, बुमरी, टोंगी, अरगड्डा- सिरका के आदिवासी समाज के दर्जनों युवा महिला, पुरुषों, बुजुर्गों ने जननायक की प्रतिमा पर फूलमाला पहना कर श्रद्धांजलि दी। साथ ही राज्य स्थापना दिवस की एक दूसरे को बधाई दिया। सभी ने धरती आबा के समाज व राष्ट्र उत्थान में क्रांतिकारी जज्बे को याद करते हुए इनके सकारात्मक विचारों को जीवन में प्रेरणा लेकर आदिवासी मूलवासी समाज को एकजुट करने की शपथ लिया। अवसर पर पहान के द्वारा भगवान बिरसा प्रतिमा के समक्ष पारंपरिक रीति रिवाज से पूजन भी किया गया। इसके पश्चात सभी ग्रामीण आदिवासी, मूलवासी समाज के लोगों ने बारी- बारी अपने विचार कार्यक्रम मंच के माध्यम से रखा। मौके पर समाजसेवी कुलदीप बेदिया, दिलीप भुईयां, अमर मुंडा, गोविंद बेदिया, धनेलाल बेदिया, शिवदेव बेदिया, अशोक करमाली, भुट्टो मांझी, रथु उरांव, दीपक उरांव, आकाश करमाली, अमर मुंडा, राजेश बेदिया, सिकंदर मुंडा, राजू करमाली, राजू बेदिया , मंजू सुनीता दुर्गमनी , कुलो , किरण , पिंकी , यसोदा देवी समेत दर्जनों समाज की महिलाएं उपस्थित थी।