जिले के विभिन्न इलाकों में सड़क दुर्घटना में दो की मौत, 18 से अधिक घायल

खूंटी : खूंटी जिले में सड़क दुर्घटनाओं में लगातार इजाफा हो रहा है। हर दिन दो -चार सड़क दुर्घटना आम बन गयी है लेकिन शुक्रवार और शनिवार का दिन खूंटी जिले के लिए दुर्घटना का दिन बन गया। खूँटी जिले का ग्रामीण और शहरी दोनों इलाका एक्सीडेंटल जॉन सा बन गया है। शनिवार 16 अक्टूबर को जिले के 09 स्थानों पर विभिन्न सड़क दुर्घटना में 18 लोग घायल हो गए। जिसमें तीन गम्भीर रुप से घायल व्यक्तियों को चिकित्सकों ने रिम्स राँची रेफर कर दिया। एक दिन में नौ विभिन्न स्थानों में सड़क दुर्घटना होने से अस्पताल में अन्य मरीजों को छोड़ दुर्घटना के मरीजों का तत्काल इलाज करना स्वास्थ्यकर्मियों की प्राथमिकता बन जाती है।

वहीं दूसरी ओर बाबा आम्रेश्वर धाम से लौटकर दशम फॉल जा रहे रांची के एक व्यवसायी परिवार की कार असंतुलित होकर गड्ढे में गिर गयी जिससे दो लोग घायल हो गए। कार सवार 70 वर्षीय शत्रुघ्न प्रसाद सिन्हा गम्भीर रूप से घायल हो गए। जबकि 45वर्षीय श्वेता सिन्हा के पैर मे चोट लगी है। इधर, बाईक से छह विभिन्न जगहों में सड़क दुर्घटना हुई। जिसमें बंदगांव‌ निवासी 16 वर्षीय रजत मुण्डू, अमृतपुर निवासी प्रकाश उरांव और मंगल उरांव , आयुबहातु निवासी महावीर मुण्डा, पीड़ीटोली निवासी किरण पुर्ति, जकरियस मुण्डू, रंदाय मुण्डू, हिरामनी, शांति मुण्डू , हाथडीह निवासी सामुएल मुण्डू, शांति मुण्डू आदि का नाम शामिल है। जिसमें 49 वर्षीय शांति मुण्डू और बंदगांव के रजत मुण्डू को रेफर कर दिया गया। इन सभी एक्सीडेंट में ज्यादातर लोग 25 वर्ष से कम उम्र के बाइकर्स हैं।

कल देर शाम रेवा गांव के बिरहू मोड़ में मैजिक गाड़ी ने पेड़ को जबरदस्त टक्कर मारी। जिससे 60 वर्षीय युवती रुक्मिणी देवी की घटनास्थल पर ही मौत हो गई और चालक निर्मल सांगा को गम्भीर चोटें आयी है वहीं उसमें सवार युवती की मौत के बाद पुलिस को सूचित करने के साथ सभी को अस्पताल लाया गया। जिसमें चालक को रिम्स रेफर कर दिया गया। मृतका के बेटे अनिल महतो ने बताया कि उसकी माँ घर के उपज साग सब्जी को बिक्री करने खूँटी बाजार गयी हुई थी और शाम को खूँटी बाजार से बिक्री कर उसी के मैजिक गाड़ी से लौट रही थी और चालक शराब पीकर काफी स्पीड से चलाते हुए पेड़ को मार दिया जिससे दुर्घटना घटी।

स्थानीय भाजयुमो जिलाध्यक्ष राजेश महतो ने बताया कि शराब पीकर वाहन चलाने से खूँटी क्षेत्र में हमेशा ही ऐसी सड़क दुर्घटना देखने को मिलती हैं। जिसपर प्रशासन को लगाम लगाने की आवश्यकता है। खूँटी जिले में आए दिन सड़क दुर्घटना होने लगी है। इसका मुख्य कारण चालकों का आउट ऑफ कंट्रोल वाहन चलाना और नशापान। कोई गुटखा, गांजा तो कोई शराब के नशे में चलाते हैं गाड़ी।