उपायुक्त की अध्यक्षता में समेकित जनजाति विकास अभिकरण द्वारा कार्यान्वित योजनाओं की समीक्षा बैठक संपन्न

अविलंब छात्रों के आधार कार्ड लिंक कराते हुए शत-प्रतिशत छात्रों को छात्रवृत्ति का लाभ दिलाएं: उपायुक्त

पाकुड़: उपायुक्त वरूण रंजन की अध्यक्षता में समेकित जनजाति विकास अभिकरण द्वारा कार्यान्वित योजनाओं की समीक्षा हेतु बैठक समाहरणालय स्थित उपायुक्त के कार्यालय प्रकोष्ठ में किया गया।

बैठक में उपायुक्त ने प्री मैट्रिक एवं पोस्ट मैट्रिक के छात्रों को दी जाने वाली छात्रवृत्ति की अद्यतन स्थिति की समीक्षा की। समीक्षा के दौरान उन्होंने परियोजना निदेशक को निर्देश दिया कि जिला शिक्षा पदाधिकारी एवं जिला शिक्षा अधीक्षक से सभी छात्रों का बैंक खाता संख्या, आधार संख्या प्राप्त कर एवं बैंकों के साथ समन्वय स्थापित करते हुए अविलंब आधार कार्ड लिंक कर शत-प्रतिशत छात्रों को छात्रवृत्ति का लाभ दिलाने का निर्देश दिया।

बैठक में उपायुक्त ने जिलांतर्गत स्वीकृत जाहेरस्थान की घेराबंदी की अद्यतन स्थिति की समीक्षा की। समीक्षा के दौरान विगत वित्तीय वर्ष 2019-20 का 05 कार्य अपूर्ण पाए गए। जिसमें जमीन विवादित होने के कारण 03 लंबित तथा 02 योजना का कार्य प्रगति पर होने की जानकारी दी गई। वहीं वित्तीय वर्ष 2020-21 में विभाग से स्वीकृत कुल 22 योजनाओं में उपायुक्त द्वारा अविलंब प्रशासनिक स्वीकृति प्राप्त कर लाभुक समिति चयन करते हुए नवम्बर 2021 पूर्ण कराने का निर्देश दिया। साथ ही उन्होंने वित्तीय वर्ष 2019-20 में स्वीकृत 03 योजना जो गौचर भूमि पर प्रस्तावित थी को रदद करने एवं उसके स्थान पर योजना स्वीकृति की कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया। उसी प्रकार कब्रिस्तान घेराबन्दी का वर्ष 2020-21 का 02 योजना लंबित पाया गया जिसे अविलंब पूरा करने का निदेश दिया गया। साथ ही वर्ष 2020-21 में स्वीकृति 9 कब्रिस्तान घेराबंदी का लाभुक समिति चयन कर कार्य प्रारंभ करने का निर्देश दिया गया। एमएसडीपी योजना मैं लंबित भुगतान के लिए विभाग को राशि मुक्त करने हेतु स्मार पत्र भेजने का निर्देश दिया गया। सीसीडी योजना के तहत लंबित नो योजना को अविलंब पूरा करने एवं वर्ष 2020-21 में स्वीकृत पीसीसी पथ निर्माण की योजना का निविदा के माध्यम से क्रियान्वयन के लिए निर्देश दिया गया।

बैठक में परियोजना निदेशक आईटीडीए मो० अख्तर, जिला कल्याण पदाधिकारी व अन्य उपस्थित थे।