ऑक्सीजन प्लांट का केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा ने किया ऑनलाइन उद्घाटन

खूंटी:  झारखण्ड प्रदेश का पहला जिला स्तरीय ऑक्सीजन प्लांट लगाने का गौरव खूंटी जिला को प्राप्त हुआ है। कोरोना संक्रमण के संकटकालीन दौर में जब चारों तरफ ऑक्सीजन की कमी से कई लोगों की जान पर आफत बनी। ऐसे संकटकालीन स्थिति से निपटने के लिए खूंटी जैसे छोटे जनजातीय जिले में जनजातीय मामलों के केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा के सहयोग से प्रदेश का पहला ऑक्सीजन प्लांट स्थापित किया गया और जिले के कोविड केयर सेंटर के प्रत्येक बेड को ऑक्सीजन पाइपलाइन से जोड़ा गया।

बता दें कि केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा झारखंड के लिए 5000 ऑक्सीजन सिलिंडर की व्यवस्था कर रहे हैं।बहुत जल्द ये रियाद से झारखंड पहुंचेगा। केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा ने यह घोषणा आज खूंटी में लगे नये ऑक्सीजन प्लांट के ऑनलाइन उद्घाटन के अवसर पर कही।

देश में कोरोना महामारी से निपटने के लिए केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा दिल्ली से ही झारखंड के लिए यह व्यवस्था कर रहे हैं।उन्होंने कहा कि वह राज्य के लिए कुछ और स्वास्थ्य उपकरण के लिए कोशिश कर रहे हैं। अपने लोकसभा क्षेत्र खूंटी में ऑक्सीजन की उपलब्धता ससमय सुनिश्चित कराने के उद्देश्य से ऑक्सीजन प्लांट का उद्घाटन किया। कोरोना महामारी के समय झारखंड में ऑक्सीजन प्लांट लगानेवाला यह पहला जिला बना।रिकॉर्ड समय में प्लांट की स्थापना के लिए उन्होंने खूंटी जिला प्रशासन को बधाई दी। अर्जुन मुंडा ने अपने सांसद निधि से एम .सी .एच . अस्पताल परिसर में ऑक्सीजन प्लांट लगवाया है। ऑक्सीजन प्लांट की क्षमता 5 हजार लीटर प्रति घण्टे की है। साथ ही इसके अधिष्ठापन से जिले में कोरोना संक्रमित मरीजों का बेहतर चिकित्सीय उपचार सुनिश्चित हो सकेगा।अस्पताल में सभी ऑक्सीजन सपोर्टेड बेड व 10 आई.सी.यू बेड व अन्य संसाधनों की उपलब्धता सुनिश्चित की गई है।उन्होंने आशा व्यक्त की है कि संक्रमित मरीजों को ससमय स्वास्थ्य लाभ उपलब्ध कराने की दिशा में यह एक सफल कदम होगा।