सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में दो साल की बच्ची की मौत पर हंगामा

बोकारो से जय सिन्हा
बोकारो: चंदनकियारी प्रखंड स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में इलाज के दौरान दो साल के बच्ची की मौत हो गई। मौत के बाद बच्ची के माता – पिता समेत सभी परिजनों ने चिकित्सक पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए जमकर हंगामा करने लगे। घटना की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने परिजनों को समझा बूझाकर बच्ची के शव देकर घर भेज दिया गया। बच्चे को उल्टी दस्त बुखार के साथ साथ सांस भी फूल रहा था ।जानकारी के अनुसार बताया गया कि धनबाद जिले के परसियाबाद के राजेन्द्र हेम्ब्रम के पत्नी व उनके बच्ची रचना कुमारी चंदनकियारी के कुमीरडोभा पंचायत के सुदामडीह गांव अपने मामा घर आए थें। मामा घर आने के बाद सोमवार को अचानक बच्ची को बुखार ,सर्दी व दस्त हो रही थी। बेहतर इलाज के लिए चंदनकियारी सीएचसी लाया गया। जहां डाक्टर मंजु दास ने जांच कर कुछ दवाइया और भर्ती कर लिया। दावा खाने के दो से ढाई घंटे के बाद बच्ची की सांस फूलने से मौत हो गई। मौत होते ही परिजनों ने जमकर बवाल काटा। बच्ची के पिता ने राजेन्द्र हेम्ब्रम ने आरोप लगाया हैं की डाक्टर मंजूदास ने मेरे बेटी की इलाज में लापरवाही की हैं। बेटी की सांस फुल रहे थें। लेकिन बेटी को आक्सीजन नहीं लगाया। और दूसरे हांस्पिटल रेफर भी नहीं किया। इस संबंध में प्रभार डाक्टर श्रीनाथ ने कहा कि बच्चों रचना कुमारी दिन की लगभग 11.30 सीएचसी लाकर भर्ती कराया गया। डाक्टर मंजु दास ने जांच कर जरूरत के अनुसार दवा दिया गया। अचानक दो घंटे के बाद बच्ची की सांस फूलने लगा जबतक डाक्टर समझ कर आक्सीजन लगाते तबतक बच्ची ने दम तोड़ दिया। वहीं डाक्टर मंजूदास ने कहा कि हमने जांच कर दवा दिया था। अचानक बच्ची की मौत हो गई। इसमें सीएचसी के पूरे परिवार को खेद हैं।