कोरोना संक्रमण से बचने के लिए टीका जरूरी : आर के गोप

सरायकेला। राष्ट्रीय श्रमिक शिक्षा एवं विकास बोर्ड (श्रम एवं रोजगार मंत्रालय भारत सरकार) क्षेत्रीय निदेशालय, जमशेदपुर के तत्वावधान में दो दिवसीय महिला जागरूकता प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन सरायकेला प्रखंड अंतर्गत सेरेंगदा ग्राम स्थित आंगनबड़ी केंद्र प्रांगण में किया गया। कार्यक्रम का उद्घाटन बोर्ड के शिक्षा पदाधिकारी राज किशोर गोप ने दीप प्रज्वलित कर किया । अपने संबोधन में उन्होंने कोरोना वैश्विक महामारी पर प्रकाश डालते हुए कहा कि यह एक जानलेवा रोग है।इस रोग के संक्रमण से बचने के लिए सबको टीका लेना नितांत आवश्यक है। ग्रामीण क्षेत्र में जागरूकता की भारी कमी के कारण कोरोना टीका के प्रति बहुत ही नकारात्मक विचार एवम तथ्य फैले हुए है जो समाज में जहर घोलने के बराबर है।यह स्थिति भविष्य में रोग निराकरण हेतु बहुत खतरनाक साबित हो सकता है।आगे उन्होंने चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि अभी भी ग्रामीण क्षेत्र में भारी संख्या में लोग टीका से वंचित है तथा टीका के प्रति लोगो का रुझान बहुत उत्साह जनक नहीं है। जागरूकता की कमी के कारण लोग केंद्र तथा राज्य सरकार द्वारा संचालित कल्याणकारी योजनाओं का लाभ नहीं उठा पा रहे हैं। उन्होंने महिलाओं का आह्वान किया कि वे स्वयं सहायता समूह के माध्यम सामाजिक परिवर्तन हेतु अपनी भूमिका सुनिश्चित करें। कार्यक्रम का संचालन बोर्ड के कार्यक्रम समन्वयक हेमसागर प्रधान ने किया । उन्होंने जीवन ज्योति बीमा योजना, आयुष्मान भारत योजना, बालिका समृद्धि योजना, अटल पेंशन योजना, लेबर कार्ड बनाने की प्रक्रिया के बारे में प्रतिभागियों को बताया। इस कार्यक्रम में कुल 40 महिलाओं ने भाग लिया। कार्यक्रम में भाग लेने वाले प्रतिभागियों को बोर्ड की ओर से 2 दिन का दैनिक भत्ता 500 रु उनके बैंक खाते में डीबीटी योजना के तहत प्रदान किया जाएगा । इस कार्यक्रम को सफल बनाने में सुषमा कुमारी महतो ,सबिता नायक,चंद्रकला महतो, उर्मिला महतो, रेशमा महतो का सराहनीय योगदान रहा।