विचार मंच के कार्यकर्ताओं ने किया माल्यापर्ण

पाकुड़: डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी विचार मंच के तत्वाधान में जनसंघ के संस्थापक डॉऽश्यामा प्रसाद मुखर्जी की जयंती सोमवार को धूमधाम से मनाई गई। नगर परिषद,पाकुङ स्थित डॉऽश्यामा प्रसाद मुखर्जी मार्केट कंपलेक्स में स्थापित डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी की आदमकद प्रतिमा पर मंच कार्यकर्ता तथा सामाजिक संगठनों के द्वारा माल्यार्पण किया गया,।इस अवसर पर पूर्व सांसद सोम मरांडी,नगर परिषद अध्यक्ष सम्पा साहा,भाजपा नेता अनुग्राहित प्रसाद साह,दुर्गा मरांडी,हिसाबी राय,विवेकानंद तिवारी,अमृत पांडेय,शबरी पाल,बंगाली समिति पाकुड़ के मुकुल भट्टाचार्य,मानिक देव,दिलीप घोष इत्यादि मौजूद थे। पूर्व सांसद सोम मराण्डी ने इस अवसर पर कहा कि डॉऽश्यामा प्रसाद मुखर्जी शिक्षाविद् राष्ट्रवादी चिंतक एवं भारतीय जनसंघ के संस्थापक रहे।उनका जन्म 6 जुलाई 1901 में कोलकाता के प्रतिष्ठित परिवार में हुआ।उनके पिता सर आशुतोष मुखर्जी विद्वान होने के साथ-साथ बहुमुखी प्रतिभा के धनी थे। डॉऽ मुखर्जी ने 1923 में लॉ की पढ़ाई की और विदेश चले गए।1926 में बैरिस्टर बनकर लौटे।समाज में अलख जगाने के उद्देश्य से उन्होंने राजनीतिक में प्रवेश किया।उन्हें 23 जून 1953 में रहस्यमय परिस्थितियों में जम्मू-कश्मीर की जेल में उनका निधन हो गया।वहीं मौके पर अन्य वक्ताओं नपे भी अपना अपना विचार रखा।माल्यार्पण कार्यक्रम में अशोक प्रसाद,सुनील सिंह चन्द्रवंशी,सोहन मंडल,सादेकुल आलम,गोपी दुबे,राजेश डोकानियां,बेला मजूमदार,रवि जयसवाल,अनिकेत गोस्वामी,संतोष कुमार नाग,प्रधान किस्कु,पंचानन सरकार,रंजीत राम,प्रवीण मंडल,बहादुर मंडल,मोनू जायसवाल,राजेश शाह,तनमय पोद्दार, सोनू रजक सहित दर्जनों कार्यकर्ता व नेताओं ने भी डॉक्टर मुखर्जी को श्रद्धांजलि अर्पित किया।