पलामू : पीएम आवास लाभुकों से रिश्वत लेते पंचायत सेवक का वीडियो वायरल

पलामू से सुधीर कुमार गुप्ता की रिपोर्ट

मेदिनीनगर: पलामू जिले के नीलांबर पितांबरपुर (लेस्लीगंज) प्रखंड के चौरा पंचायत के पंचायत सेवक रामयाद राम का दो वीडियो वायरल हो रहा है. इस वीडियो में पंचायत सेवक रामयाद राम रिश्वत लेते दिख रहे है. रिश्वत पीएम आवास लाभुकों से लिया जा रहा है. हालांकि इस वीडियो की पुष्टि लगातार डॉट इन नहीं करता है.वायरल वीडियो में आवास योजना का बकाया भुगतान के लिए लाभुक से घूस ली जा रही है. पंचायत सेवक रामयाद राम अपने पुत्र के साथ लाभुक से राशि उगाही कर रहे हैं. वीडियो में पंचायत सेवक लाभुक से अपने बेटे के पास पैसे जमा करने की बात कह रहे हैं।इधर वीडियो सामने आने पर स्थानीय ग्रामीणों ने विधायक शशिभूषण शिकायत की. जिसके बाद विधायक ने मामले को संज्ञान में लेते हुए उप विकास आयुक्त व पलामू उपायुक्त को पत्र लिखा है. और दोषी पंचायत सेवक के खिलाफ कार्रवाई करने की बात कही.नीलांबर पितांबरपुर (लेस्लीगंज) प्रखंड के विधायक प्रतिनिधि लाला प्रसाद यादव ने बताया कि पंचायत सेवक रामयाद राम द्वारा पीएम आवास लाभुकों से घूस लेने का मामला विधायक के संज्ञान है. इस मामले में दोषी पंचायत सेवक पर कार्रवाई के लिए डीडीसी समेत उच्च अधिकारियों को पत्र भी लिखा गया है. वीडियो में हरसंघरा निवासी मनोज महतो घूस देते दिख रहे हैं. जिसे यह स्पष्ट हो रहा है कि बगैर रुपए दिए आवास योजना का लाभ संभव नहीं है।हालांकि इस पंचायत में पहले भी आवास योजना के लिए रिश्वतखोरी की शिकायत की गई थी. लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई. लाभुक मनोज महतो , सुमित्रा देवी , सुदेश्वर भुइयां आदि ने बताया कि पंचायत सेवक उनके भी आवास योजना के भुगतान के लिए रिश्वत लिया है. कई लाभुकों ने बताया कि रिश्वत नहीं देने पर पंचायत सेवक लाभुकों को जेल भेजवाने की धमकी देते हैं।पंचायत के कई लोगों ने बताया कि पंचायत सेवक रामयाद राम अपने पुत्र को साथ में लेकर पंचायत का भ्रमण करते हैं. रिश्वत का पैसा पंचायत सेवक अपने पुत्र के पास जमा कराते हैं. वीडियो के बारे में बीडीओ से पक्ष लेने की कोशिश की गई तो उनसे संपर्क नहीं हो पाया।इस मामले में जब पंचायत सेवक रामयाद राम से पूछा गया तो उन्होंने बताया कि मुझे फंसाने की साजिश रची जा रही है. ऐसे किसी विडियो के बारे में मुझे कोई जानकारी नहीं है।