विहंगम योग चाईबासा संत समाज के द्वारा ब्लड बैंक में रक्तसेवा रूपी यज्ञ का अग्नि प्रज्जवलन किया गया

37 यूनिट रक्त हुआ संग्रह
रामगोपाल जेना
चाईबासा: यज्ञ श्रेष्ठ सकाम कर्म है जिससे मनोवांछित फल की प्राप्ति की जाती है|यज्ञ की पूर्णता सेवा के बिना संभव नहीं है|सेवा से ही सब कुछ प्राप्त किया जा सकता है|स्वर्वेद की वाणी है:- “जहाँ क्षात्रबल, नीतिबल, विद्याबल बेकाम| कुण्ठित सारी शक्ति है, वहॅ सेवा कर काम||” सद्गुरु उत्तराधिकारी सुपूज्य संत प्रवर श्री विज्ञानदेव जी महाराज की वाणी है रक्तसेवा रुपी यज्ञ से दूसरे की जीवन की रक्षा तो होती ही है अपने स्वास्थ्य के लिए भी कल्याणप्रद है|विहंगम योग चाईबासा संत समाज के द्वारा सद्गुरु उत्तराधिकारी सुपूज्य संत प्रवर श्री विज्ञानदेव जी के पावन जन्मोत्सव पर प्रतिवर्ष आयोजित रक्तसेवा अभियान के तहत 31 अक्टुबर रविवार को ब्लड बैंक चाईबासा में सम्पूर्ण मानव जाति के कल्याणार्थ रक्तसेवा रूपी यज्ञ का अग्नि प्रज्जवलन 10 बजे से किया गया|इससे पूर्व सोनुआ में मनोहरपुर विधानसभा क्षेत्र के पूर्व विधायक श्री गुरुचरण नायक जी के द्वारा बालजोड़ी ग्राम से चले रक्तसेवक बाईक रैली को हरी झंडी दिखाकर ब्लड बैंक चाईबासा के लिए रवाना किया गया|चाईबासा ब्लड बैंक में सोनुआ, चक्रधरपुर, चाईबासा एवं मझगाँव से आए हुए लगभग 40 रक्तसेवकों ने रक्तसेवा किया|
इस अवसर पर
सुनील कुमार सिंह, अभिषेक पाण्डेय, अबधेश कुमार, बसंत कुमार महतो, रामपति उराँव, महेश राम निषाद, जयद्रथ महतो, प्रेम नायक, मनोज कुमार, सुषेण नायक,श्रीमती रुपा महतो, विभिषण महतो, गोपी कुम्हार, गणेश पुरती, निरंजन कुम्हार, विनोद मुखी, तुरी मेलगांडी, सन्नी खलखो, अनंत किशोर महतो, देवांशु नायक, ऋतिक नायक, आदित्य नायक, लारेन्स बारला, सुदामा चरण बेहरा, पप्पु चौरसिया, अंकित प्रधान, निरंजन नायक, धीरेन कुमार सिंह, सुमीत कुमार गोप,खिरोद दास, सुरज बारिक, भरतेन्दु नायक, अनिल साव, मोहन विश्वकर्मा, विजयराज यादव, अखिलेश यादव आदि रक्तदान किये