हाथियों के कहर से ख़ौफ़ज़दा है ग्रामीण

बोकारो से जय सिन्हा
बोकारो: बेरमो के गोमिया प्रखण्ड के पिंडरा गांव के नजदीक दो दिनों से डेरा जमाए दो जंगली हाथियों के झुंड द्वारा लगातार हमला कर ग्रामीणों को दौड़ाया जा रहा है। फिर भी किसान जान जोखिम में डालकर फसल बचाने के लिए हाथियों को भगाने के प्रयास में जुटे हैं। ग्रामीणों का कहना है वन विभाग को सूचना देने के बाद भी विभाग ना तो संसाधन उपलब्ध करा रहा और ना हाथी भगाने में कोई मदद कर रहा है। गोमिया के कई गांवों में जंगली हाथी ने पिछले दो महीने से उत्पात मचा रखा है। हाथी भगाने के कार्य में टीम कर रही हैं। पिंडरा गांव में भी हाथियों के हमले की सूचना के एक घंटे में हाथी भगाने के लिए टीम को गांव भेजा जना था। पिंडरा गांव के ग्रामीणों का कहना है पिछले दो दिनों में हाथी भगाने की टीम तो क्या विभाग का एक कर्मचारी तक नहीं आया है। गांव के बाहर दो दिनों से हाथी डेरा जमाए बैठे हैं, हमलोग भगाने का प्रयास में लगे हैं लेकिन उल्टा बार बार हमलोग को हाथी दौड़ा रहें हैं। वन विभाग को सूचना दिए हैं, बावजूद कोई कर्मचारी अभी तक मदद के लिए नहीं पहुंचा है, सच कहें तो वन विभाग अबतक मौन साध रखा है जैसे उसे किसी बड़े हादसे का इंतज़ार हो।