पीएम आवास की सूची नगर कार्यालय के सूचना पट्ट पर प्रसारित करने की मांग ग्रामीणों ने की

हरिहरगंज (पलामू)। नवसृजित हरिहरगंज नगर पंचायत में प्रधानमंत्री आवास योजना के आवंटन में घोर अनियमितता का मामला सामने आया है। यहां पीएम आवास योजना का आवंटन सारे सरकारी नियमों को ताक पर रख के किया गया है। पूर्व में पक्का मकान होने के बावजूद संपन्न व अयोग्य लाभुकों को भी पीएम आवास मुहैया कराया जा रहा है। इसी आशंका को जानने को लेकर हरिहरगंज नगर पंचायत के नागरिकों द्वारा नगरीय प्रशासन निदेशालय, नगर विकास एवं आवास विभाग झारखण्ड सरकार के शिकायत एवं सुझाव पोर्टल पर आवास लाभुकों की सूची सार्वजनिक करने हेतु सूचना पट्ट पर उपलब्ध कराने की मांग की गई थी।इस एवेज में विश्वदीप कुमार को दिनांक 9 अक्टूबर 2021 को पीजीएम पोर्टल के माध्यम से आवास का लालच देकर उन्हें शहरी आवास के लिए वंचित दस्तावेजों के साथ नगर पंचायत कार्यालय पर उपस्थित होने के लिए कहा गया।जबकि विश्वदीप कुमार ने इनकार करते हुए वंचित छूटे ना, संपन्न लूटे ना इस उद्देश्य के साथ सभी चयनित आवास लाभुकों की सूचि को सार्वजनिक किया जाए।ताकि संपन्न लोगों के मिले आवास को रद्ध कराकर वंचित लोगों को दिलाया जा सके।पुनः रविवार को हरिहरगंज के अधिकारियों द्वारा पोर्टल के माध्यम से बताया गया की सारे शहरी आवास की सूची नगर पंचायत परिसर के बाहरी दीवार पर लगाया गया है। लेकिन जब सैकड़ों ग्रामीणों द्वारा आज उक्त स्थल पर गए तो न ही कोई सूची सार्वजनिक किया गया था और न ही सूची लगाने की कोई साक्ष्य दिख रहा था, इसके बाद सभी ग्रामीणों का गुस्सा फुट पड़ा। एवम सरकार तथा संबंधित विभाग से इस शहरी आवास की गहनता से जांच कराकर भ्रष्ट अधिकारियों पर कानूनी कारवाई की मांग की गई। इस मौके पर विश्वदीप कुमार, कृष्णा कुमार क्रांतिकारी, अजय सोनी, अजित कुमार शर्मा, गोलू कुमार, राजेश कुमार, शंकर गोस्वामी, मनोज कुमार सोनी शामिल हैं।