बंद पड़े चूना पत्थर खदान में मछली पालन करेंगे ग्रामीण

रामगोपाल जेना
चाईबासा: कमारहातु के ग्रामीण मिलकर बंद पड़े चूना पत्थर खदान में मछली पालन करेंगे।इस बाबत ग्रामीण मुंडा बिरसा देवगम की अध्यक्षता में एक बैठक बुलाई गई। जिसमें निर्णय लिया गया कि गांव के बंद पड़े चूना पत्थर खदान में सालों भर लबालब पानी भरा रहता है। इसका उपयोग मछली पालन में किया जाएगा।मछली पालन में सभी ग्राम वासियों की सहभागिता हो,इसके लिए हर परिवार सहयोग राशि जमा करेंगे और भविष्य में जरुरत के अनुसार मछली मार सकेंगे।बैठक में कहा गया कि गांव वासियों द्वारा मछ्ली पालन शुरू होने के बाद अन्य लोगों के द्वारा मछ्ली मारने पर प्रतिबंध लगाया जाएगा।
बैठक में पूर्व मुंडा दीनबंधु देवगम,सोमय देवगम,शिक्षक कृष्णा देवगम,पुलिस सार्जेंट मेजर रांधो देवगम,सिंगराय देवगम,डाकुआ सिदिऊ तांती,मिथिला देवगम,सोनामुनी देवगम,नन्दी देवगम,रामचंद्र बिंदाणी,पतोर देवगम,दुंबी देवगम,सतारी देवगम,लक्ष्मी देवगम,सुमित्रा देवगम,पोते सिंह देवगम,तुराम देवगम,बुंदीराम देवगम,लादुरा देवगम,परशु देवगम,तुराम देवगम,बसंती बिरुली आदि उपस्थित थे।