बाईपास सड़क निर्माण कार्य के मजदूरों को मजदूरी राशि नहीं मिलने पर दी आंदोलन की चेतावनी

जिले में 31 मई के बाद शुरू किया जाएगा काम रोको अभियान

बसंत कुमार गुप्ता

गुमला।गुमला मजदूर यूनियन संगठन सीएफटी यूआई के अध्यक्ष जुम्मन खान ने कहा कि बाईपास सड़क निर्माण कार्य के ठेकेदार से मजदूरों के बकाया राशि भुगतान की मांग को लेकर राष्ट्रीय उच्च प्रमंडल गुमला के अधिकारियों से मिल कर गुहार लगा चुके हैं लेकिन आज3साल से उपर हो चुका है निर्माण कार्य पर नहीं मिले हैं मजदूर के बकाया राशि। उन्होंने कहा है कि गुमला एवं राचीं के पेटीदारों की दादागिरी से मजदूर परेशान हैं। श्री खान ने बताया कि मजदूरों के बकाया राशि भुगतान की मांग को लेकर श्रम विभाग गुमला को भी मांग पत्र सौंपा गई है इसके साथ ही उपायुक्त गुमला एवं थाना प्रभारी को भी चिट्ठी दिया गया है लेकिन अभी तक चिट्ठी के देने के बाद भी जिला प्रशासन के अधिकारी पैसों के भुगतान को लेकर सकारात्मक कदम नहीं उठा रहे हैं जिसके कारण मजदूरों को काफी परेशानी हो रही है उन्होंने कहा है कि अगर यही प्रशासन का रवैया रहा तो मजदूर यूनियन संगठन सीएफटीआई के बैनर तले पूरा गुमला जिले में मजदूरी भ्रष्टाचार के खिलाफ चरणबद्ध आंदोलन की शुरुआत कर दी जाएगी इसकी सारी जिम्मेवारी जिला प्रशासन पर होगी उन्होंने कहा है कि नियम कानून के तहत सड़क का निर्माण नहीं हो रहा है और उसमें लगे मजदूरों की मजदूरी भुगतान में भी परेशानी हो रही है ऐसे में जिला प्रशासन एवं राज्य के जनप्रतिनिधि क्या कर रहे हैं यह सोचने वाली विषय है उन्होंने राज्य के मुख्यमंत्री से इस मामले पर तत्काल कार्रवाई करते हुए मजदूरों की मजदूरी राशि की भुगतान कराने में सहयोग करने की अपील की है। उन्होंने कहा है कि मजदूरी भुगतान को लेकर श्रम बिभाग में भी आवेदन लिखित शिकायत किया गया है । आवेदन पर अब तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है। मजदूर नेता ने कहा है कि कुछ बेकार इस महामारी कोविड19से पहले भुखमरी से मरेगें मजदुर अब नहीं सहेगें शौषण जिला के कोई अधिकारी हमारे इस आंदोलन में समझोता करने ना आयें और आते हैं तो हमारे बकाया राशि लेकर आयेगें।उन्होंने जिला प्रशासन पर कड़ी कटाक्ष करते हुए कहा है कि घुसखोर अधिकारी हमारे बीच नहीं आयें अब क्या करेंगे कैसे होगा मजदूर31तारीख के बाद स्वागत करेंगे। उन्होंने कहा है कि ठेकेदार,पेटीदार,जनप्रतिनिधि,का बहुत हुआ तमाशा अब नहीं|गुमला जिला मजदूर यूनियन संगठन सीएफटीआईयू जिला अध्यक्ष जुम्मन खानं ने कहा अब गुमला जिले में कहीं पर कोई कार्य नहीं करेंगे मजदूर पहले मजदूर के हक अधिकार मिले फिर होगा कार्य|इसी अभियान के तहत 31 मई के बाद में चरणबद्ध आंदोलन के साथ काम रोको अभियान की शुरुआत कर दी जाएगी।