राशन कार्ड व पेंशन नहीं मिलने पर महिलाओं ने बरही मुख्यालय का मुख्य गेट तीन घंटे किया बंद

एमओ के आश्वासन बाद खोला गया मुख्य द्वार

बरही से बिपिन बिहारी पाण्डेय

बरही: कोनरा पंचायत के भावी मुखिया प्रत्याशी यासमीन तबस्सुम के नेतृत्व में पंचायत के भारी संख्या में महिलाएं बरही मुख्यालय करीब 12 बजे पहुंची। मुख्यालय पहुंचने के बाद बरही प्रखंड सह अंचल कार्यालय का मुख्य द्वार महिलाओं के द्वारा बंद कर दिया गया, और आवागमन पूरी तरह से बंद कर दिया गया। मौके पर मौजूद महिलाओं ने कहा कि काफी दिनों से राशन कार्ड व पेंशन को लेकर प्रखंड सह अंचल कार्यालय का चक्कर लगाते लगाते परेशान हो गए। हम लोगों का राशन कार्ड अभी तक नहीं बनाया गया है, जबकि राशन कार्ड वैसे लोगों को बनाया गया है जो सक्षम परिवार से आते हैं, गरीबों का राशन कार्ड नहीं बनाया जा रहा है। वही बुजुर्ग महिलाओ का कहना था कि पेंशन के लिए भी हम लोग काफी चक्कर लगाते रहते हैं लेकिन कोई सुनने वाला नहीं है, इस कारण आज हम लोग बाध्य होकर मुख्य द्वार को बंद कर दिए हैं। बता दें कि उक्त सभी महिलाएं करीब 12 बजे बरही प्रखंड मुख्यालय पहुंची और 3 बजे तक मुख्य द्वार को बंद रखा। इस दौरान प्रखंड कार्यालय में कार्य करवाने आए लोगों को भी काफी समस्याओं का सामना करना पड़ा। वही मौके पर मौजूद पंचायत के मुखिया मो. ताजुद्दीन ने बताया कि हमने लॉकडाउन से पहले 151 राशन कार्ड सक्षम परिवार का जमा करवाये थे, लेकिन किसी का नहीं कटा। वही उसके बाद करीब 500 आवेदन गरीब लोगों का दिए, जिसमें मात्र 161 ग्रीन कार्ड बनाया गया, बाकी बचें लोगों का कोई कार्य नहीं किया गया। मौके पर भावी मुखिया प्रत्याशी यासमीन तबस्सुम, रूबी विश्वकर्मा, रुकसाना खातून, रेशमा देवी, गुलजान प्रवीण, रुकसाना खातून, सबरा खातून, माजहां खातून, शबाना तबस्सुम, शबनाम खातून, रुकसाना खातून, नीतू देवी, सलमा खातून, अनीता देवी, सबिया खातून, सबीना खातून, ताजबुन खातून, सीमा परवीन, अप्सरा बानो, जीवा प्रवीण, गुलशन खातून, सेलिना खातून, सलमा खातून, जीवनी देवी, सबीना खातून, कौरेशा खातून, रेहाना प्रवीण समेत भारी संख्या में महिलाएं मौजूद थी।

सूचना मिलने पर पहुंचे विधायक प्रतिनिधि विनोद यादव व एमओ आजाद सिंह: बरही प्रखंड सह अंचल कार्यालय का मुख्य द्वार दो घंटे तक बंद होने के बाद जानकारी मिलने पर बरही विधानसभा के विधायक प्रतिनिधि विनोद यादव व एमओ आजाद सिंह मुख्यालय पहुंचे। मौके पर विधायक प्रतिनिधि विनोद यादव ने महिलाओं से वार्ता किया और उन्हें समझाने का प्रयास किया। वहीं महिलाओं का मांग को जायज बताते हुए मौके पर मौजूद एमओ से तुरंत निराकरण करने को कहा। वहीं एमओ आजाद सिंह ने कहा कि इस बार 5020 यूनिट हमें मिला था, जिसमें 2241 कार्ड बनकर तैयार हो गया है। वही लगभग 2500 कार्ड हम अपने आईडी से जिला मुख्यालय के लिए छोड़ चुके हैं। वही कहा कि यदि कोई गरीब व्यक्ति का कार्ड नहीं बन पाया है तो वह हमारे पास आवेदन जमा करें मैं जरूर उसका बनवाने का प्रयास करूंगा। वही एमओ के आश्वासन के बाद मुख्य द्वार पर करीब 3 घंटे बाद खोला गया।

जनता को किया जा रहा है गुमराह: कोनरा पंचायत के भावी मुख्य प्रत्याशी सना मिर्जा (पति मो गुफरान) ने अपना बयान देते हुए कहा कोनरा के प्रधान मो. ताजुद्दीन की पत्नी यासमीन तबस्सुम जनता को गुमराह कर रही है। वहीं उन्होंने कहा कि बरही मुख्यालय का मुख्य द्वार को बंद कर सरकारी काम को बाधित किया गया जो सरासर गैर कानूनी है। यासमीन तबस्सुम के पति मो. ताजुद्दीन कोनरा पंचायत में गत 10 वर्षों से मुखिया के पद में रहते हुए भी जरूरतमंदों का राशन कार्ड नहीं बनवाया और जब यह घोषणा हो गया की कोनरा को महिला आरक्षित सीट कर दिया गया तो लोगों को राशन कार्ड व पेंशन के नाम पर गुमराह किया जा रहा है। मैं लोगों से यह अपील करना चाहूंगी की गुमराह होने से बचें। वहीं प्रशासन से मांग करती हूं कि सरकारी काम में बाधा डालने पर सुसंगत धाराओं के तहत कार्रवाई करें। ताकि आगे से कोई भी इस तरह का काम ना करें एवं सरकारी कार्य को बाधित ना करें।