खूंटी जिले के विभिन्न पंचायतों में आपके अधिकार, आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम का आयोजन

खूंटी: ‘आपके अधिकार-आपकी सरकार आपके द्वार’ कार्यक्रम का आयोजन सभी प्रखण्डों के विभिन्न पंचायतों में किया गया। आज खूंटी के फूदी पंचायत, मुरहू के दिगड़ी पंचायत, रनिया के जयपुर पंचायत, अड़की के बाड़ीनीजकेल पंचायत, तोरपा के जरिया पंचायत एवं कर्रा के लिमडा पंचायत में शिविर का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में पंचायत स्तरीय शिविर मेंप विभिन्न विभागों द्वारा सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं से संबंधित स्टॉल लगाए गए तथा कार्यक्रम में आने वाले ग्रामीणों को सरकार की योजनाओं की विस्तार पूर्वक जानकारी दी गई।

उपायुक्त के निर्देशानुसार विभिन्न पंचायतों में आयोजित शिविर में सम्बन्धित प्रखण्ड के वरीय पदाधिकारियों द्वारा शिविर का निरीक्षण किया गया एवं आमजनों को योजनाओं की जानकारी दी गयी। प्रखण्डों में आयोजित शिविर में सम्बन्धित वरीय पदाधिकारियों द्वारा प्राप्त आवेदनों का निराकरण तय समय पर करने हेतु संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए गए।

उन्होंने कहा कि जिले के ग्रामीण एवं सुदूरवर्ती क्षेत्रों में निवास करने वाले ग्रामीणों को सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी देना एवं उन्हें इससे लाभान्वित करना मुख्य उद्देश्य है। सहज एवं सरल रूप से योजनाओं की जानकारी आमजनों को मिले, इसलिए इस कार्यक्रम का आयोजन बड़े स्तर पर किया जा रहा है।  यह कार्यक्रम 16 नवंबर से 28 दिसंबर तक चलेगा। इस कार्यक्रम के तहत जिले के सभी 86 पंचायतों को कवर किया जाएगा। प्रत्येक दिन सभी प्रखंडों के एक एक पंचायतों में इस कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। जहां आम नागरिकों को सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी जाएगी। साथ ही उनकी शिकायतों एवं समस्याओं का त्वरित निष्पादन किया जाएगा।

कार्यक्रम में विभिन्न विभागों के 15 स्टॉल लगाए गए थे। विभिन्न विभागों के द्वारा स्टाल लगाकर आम जनों की समस्याओं का निराकरण किया गया। साथ ही सरकार द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं की भी जानकारी भी दी गई।

 

तोरपा प्रखण्ड के  जरिया पंचायत में आयोजित कार्यक्रम में अपर समाहर्ता ने आम नागरिकों से अनुरोध करते हुए कहा कि पंचायतों में आयोजित होने वाले शिविरों में पहुंचे और शिकायतों एवं समस्याओं से संबंधित आवेदन दें, ताकि तय समय पर उसका निष्पादन कर उन्हें सरकार की योजनाओं से आच्छादित किया जा सकें। इसके अलावा लाभुकों के बीच परिसम्पत्तियों का वितरण किया गया। साथ ही उन्होंने निर्देशित किया कि लोगों को मुख्यमंत्री रोजगार सृजन योजना की जानकारी उपलब्ध कराकर उससे जोड़ने का प्रयास करें।