सत्य सनातन संगठन के आह्वान पर युवाओं ने किया रक्त दान

पाकुड़ः रविवार को सत्य सनातन संस्था के अहवान पर युवाओं ने रक्तदान कर अस्पताल में ईलाजरत दो मरीज की जान बचाई है। संस्था के अध्यक्ष रंजीत कुमार चौबे ने इस बावत बताया कि थेलेसिमया के मरीज जीवन भगत जो पाकुड़ के एक नीजि अस्पताल में ईलाज के लिए भरती कराया गया हे। उसके शरीर में रक्त की काफी कमी है। चिकित्सकों ने रक्त उपलब्ध करने की बात परिजनों से कही। परिजनों ने मरीज की जान बचाने के लिए आनन-फानन में संस्था से रक्त उपलब्ध करने के लिए सहयोग मांगा। संस्था के प्रयास आह्वान पर व्यवहार न्यालालय में कार्यरत सहायक जो वर्तमान में व्यवहार न्यायालय में नाजिर के पद पर है,ने अपना रक्तदान किया, और जीवन भगत को जीवन दान दिया ,वही कुड़ापाड़ा निवासी प्रशान्त सागर ने रूमकी सरदार नामक महिला को रक्तदान किया है। संस्था के मीडिया प्रभारी तारक भगत ने बताया कि रूमकी सरदार का सीजर एक निजी अस्पताल में किया गया, जहाँ वो इलाजरत है । रूमकी सरदार के शरीर में रक्त की काफी कमी है। चिकित्सकों ने मरीज के जान बचाने के लिए रक्त उपलब्ध कराने की बात कही। परिजनों ने रक्त उपलब्ध करने के लिए संस्था से सहयोग मांगा। संस्था के प्रयास से संस्था के सदस्य एवम कुड़ापाड़ा निवासी प्रशान्त सागर अपना रक्तदान कर महिला मरीज रूमकी सरदार की जान बचाई है। मरीज को रक्तद मिलने के बाद परिजनों ने संस्था के अधिकारी व सदस्यों को धन्यवाद दिया है। मौके पर संस्था के अजय भगत, बमभोला उपाध्याय , सत्यम भगत,एवम अन्य उपस्थित थे। वही रक्तधिकोश गृह में कार्यरत श्री नवीन जी ने दोनों रक्तदाता को प्रमाण -पत्र देकर ,उत्साह बढ़ाया ।ताकि अधिक से अधिक लोग रक्तदान करें, और रक्तकी कमी से किसी का जीवन नही जाय।