लक्ष्य के अनुरूप उपलब्धि हासिल करें

उपायुक्त ने समाज कल्याण विभाग की योजनाओं की समीक्षा के दौरान दिए निर्देश

गोड्डा से अभय पलिवार की रिपोर्ट

गोड्डा: उपायुक्त भोर सिंह यादव की अध्यक्षता में समाज कल्याण विभाग की समीक्षात्मक बैठक आहूत की गई। समीक्षा के क्रम में सेविका,सहायिका,पोषण सखी की कार्यरत एवं रिक्तियां, आंगनबाड़ी केन्द्रों में अधारभूत संरचना भवन, पेयजल, शौचालय एवं विद्युत की उपलब्धता संबंधी प्रतिवेदन, मुख्यमंत्री सुकन्या योजना का प्रगति प्रतिवेदन, मुख्यमंत्री कन्यादान योजना का प्रगति प्रतिवेदन, प्रधानमंत्री मातृवंदना योजना का प्रगति प्रतिवेदन पर चर्चा हुई। आंगनवाड़ी केन्द्र से संबंधित सूचना, आंगनवाड़ी केन्द्रों में चापाकल, शौचालय एवं विद्युत की अद्यतन स्थिति, उच्च न्यायालय में लंबित मामलों की अद्यतन स्थिति, एनीमिया मुक्त भारत प्रतिवेदन, कोविड-19 वैक्सीनेशन रिपोर्ट, पोषण सखी से संबंधित प्रतिवेदन, पोषण ट्रैकर एप में लाभुकों का आंकड़ा दर्ज करने से संबंधित प्रतिवेदन, कोविड-19 कोरोना महामारी से बचाव हेतु टीकाकरण अभियान में सहयोग नहीं करने वाली आंगनबाड़ी कर्मी की सूची, कोविड-19 कार्यक्रम में सेविका,सहायिका,पोषण सखी द्वारा कोविड टीकाकरण हेतु प्रोत्साहित किए गए लाभुकों की संख्या विवरणी, भवनहीन आंगनबाड़ी केन्द्रों का भूमि प्रतिवेदन, मॉडल आंगनबाड़ी केन्द्रों हेतु 4 डिसमल भूमि प्रतिवेदन, निर्मित आंगनबाड़ी केन्द्रों पर मॉडल केन्द्र बनाने का प्रस्ताव संबंधी मुद्दों पर उपायुक्त ने विभाग से जानकारी ली। नये आंगनबाड़ी केन्द्र खोलने के लिए बाल विकास परियोजना पदाधिकारी द्वारा प्राप्त प्रस्ताव, सेविका,सहायिका के रिक्त पदों पर चयन अनुमोदन हेतु लंबित केन्द्रों की सूची, वित्तीय वर्ष 2021-22 में समाज कल्याण अन्तर्गत विभिन्न योजनाओं के कार्यान्वयन हेतु जिला को आवंटित की गई राशि की निकासी एवं व्यय विवरणी पर विस्तार पूर्वक चर्चा की गई।
उपायुक्त ने मुख्यमंत्री सुकन्या योजना की समीक्षा के क्रम में विभिन्न प्रखंडों को दिए गए टारगेट के अनुरूप कार्य करने के निर्देश दिए । समीक्षा के क्रम में सभी बाल विकास परियोजना पदाधिकारी को निर्देश दिए गए कि आवंटित लक्ष्य के अनुरूप शत-प्रतिशत उपलब्धि प्राप्त करने की दिशा में कार्य करें। प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना को लेकर निर्देश दिए गए सभी महिला पर्यवेक्षिकाओं के द्वारा योग्य लाभुकों के आवेदन प्राप्त कर शत-प्रतिशत उपलब्धि सुनिश्चित कराया जाए। उपायुक्त ने उक्त योजनाओं के संबंध में जिला समाज कल्याण पदाधिकारी को समय-समय पर संबंधित अधिकारियों के साथ समीक्षा करने का निर्देश दिया।बैठक में जिला समाज कल्याण पदाधिकारी कलानाथ, विभिन्न प्रखंडों के प्रखंड विकास पदाधिकारी, संबंधित विभाग के अधिकारी,कर्मी सहित अन्य उपस्थित थे।