सीएम हेमंत का फुंका गया पुतला

गुमला: आज केंद्रीय सरना समिति एवं अखिल भारतीय आदिवासी विकास परिषद के तत्वधान मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन सत्यानंद भोक्ता आलमगीर आलम एवं अन्य राजनीतिक दलों के नेताओं का रिम्स चौक बरियातू में पुतला फूंका गया मौके पर केंद्रीय सरना समिति के केंद्रीय अध्यक्ष श्री फूलचंद तिर्की ने कहा कि मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के नेतृत्व में विभिन्न दलों की प्रतिनिधिमंडल सरना कोड को लेकर गृहमंत्री अमित शाह से मिले परन्तु कोई भी प्रतिनिधि सरना कोड पर मुंह नहीं खोला जबकि आदिवासी समाज इंतजार में थे कि सरना कोड पर सार्थक पहल होगी परंतु फिर से 15 करोड़ आदिवासी के साथ धोखा हुआ अखिल भारतीय आदिवासी विकास परिषद के अध्यक्ष सत्यनारायण लकड़ा ने कहा कि दिल्ली में केंद्रीय गृह मंत्री के समक्ष सरना कोड का मुद्दा नहीं उठाना आदिवासियों की बहुत बड़ा धोखा है हेमंत सोरेन का आदिवासीयत पर प्रश्नचिन्ह खड़ा होता है दुःख की बात है कि ऐसे मौके का उन्होंने फायदा नहीं उठाया इस संपूर्ण आदिवासी समाज के साथ धोखा है आने वाले चुनाव में झारखंड मुक्ति मोर्चा एवं कांग्रेस पार्टी को सबक सिखाया जाएगा महासचिव संजय तिर्की ने कहा कि हेमंत सरकार को प्रतिनिधि मंडल में आदिवासी विधायक, सांसद या आदिवासी सामाजिक संगठन को शामिल करना चाहिए था ताकि आदिवासी हित की बात हो सके , झारखंड के आदिवासियों का दुर्भाग्य है कि सरना कोड पर बात नहीं हो सका एक सुनहरा अवसर गंवा दिया गया मौके पर केंद्रीय सरना समिति के महासचिव संजय तिर्की संरक्षक भुनेश्वर लोहरा सचिव विनय उंराव महिला शाखा अध्यक्ष नीरा टोप्पो गीता टोप्पो सीमा टोप्पो ज्योत्सना भगत किसन लोहरा प्रदिप खलखो एवं अन्य शामिल है